HDFC ने 2 लाख करोड़ रुपए का रिटेल लोन मंजूर किया  

मुंबई- हाउसिंग लोन देने वाली कंपनी HDFC लिमिटेड ने चालू वित्त वर्ष में कुल 2 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा के रिटेल होम लोन मंजूर किए हैं। बीते साल कंपनी ने 1.55 लाख करोड़ रुपे होम लोन दिए थे।  

कंपनी ने एक प्रेस बयान में बताया कि इस प्रकार HDFC ने घरों की डिमांड बढ़ने के साथ एक साल में होम लोन में 30 फीसदी की बढ़ोतरी दर्ज की है। कंपनी को कम ब्याज दरें, प्रॉपर्टी की स्थिर कीमतें और राज्यवार स्टैम्प ड्यूटी पर राहत से हाउसिंग फाइनेंस सेगमेंट में ग्रोथ का फायदा मिला है। 

कोविड19 महामारी के चलते केंद्रीय बैंक ने लिक्विडिटी बढ़ाने के लिए प्रमुख नीतिगत दरों में कमी की थी, जिसके चलते ब्याज दरें खासी कम रही। इसका फायदा हाउसिंग सेक्टर की लेंडर को मिला। HDFC ने एक बयान में कहा कि हाउसिंग लोन के लिए पहली बार घर खरीदने वालों से अच्छी डिमांड मिली। 

भौगोलिक रूप से देखें तो मेट्रो और गैर मेट्रो दोनों तरह के शहरों से डिमांड मिली। इसके अलावा सस्ते घरों से लेकर हाई एंड मार्केट तक सभी सेगमेंट से डिमांड को सपोर्ट मिला। कंपनी ने कहा कि सबसे ज्यादा घर 50 लाख रुपए से 1 करोड़ रुपए तक के मूल्य वाले बिके हैं। 

HDFC की एमडी रेणु सूद कर्नाड ने कहा कि साढ़े चार दशकों में मैंने हाउसिंग सेक्टर के लिए इससे अच्छा समय नहीं देखा। ब्याज दरें कम थीं, प्रॉपर्टी की कीमतें स्थिर रहीं, सरकार का सस्ते हाउसिंग पर जोर, खरीद क्षमता में सुधार, बढ़ता शहरीकरण आदि कई पॉजिटिव फैक्टर्स का फायदा मिला। 

उन्होंने कहा, सरकार के हाउसिंग पर जोर से इस बात को स्वीकृति मिली है कि बड़ी युवा आबादी वाले भारत जैसे देश में बड़ी संख्या में किफायती घरों की जरूरत है, जिससे ज्यादा परिवारों के लिए घर का मालिक बनने का सपना पूरा होगा। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.