रिजर्व बैंक सरकार को देता है सबसे ज्यादा पैसा, जानिए सरकार कितना लेती है हर साल

मुंबई- भारतीय रिजर्व बैंक वैसे तो बैंकिंग रेगुलेटर है, लेकिन यह सरकार की तिजोरी भरने का काम करता है। पिछले पांच सालों का रुझान देखें तो कुछ ऐसा ही नजारा दिखता है। वित्तवर्ष 2016-17 में 30,659 करोड़ रुपए इसने सरकार को दिया। जबकि
2017-18 में 50 हजार करोड़ दिया।

इसी तरह 2018-19 में इसने सरकार को 175,988 करोड़ दिया तो 2019-20 में इसने 57,121 करोड़ रुपए सरकार को लाभांश दिया। 2020-21 में इसने 99,122 करोड़ रुपए सरकार को दिए। वित्तवर्ष का मतलब होता है अप्रैल से मार्च के बीच का समय। भारत में फाइनेंशियल सेक्टर में इसी को रखा गया है। हालांकि इसके अलावा सरकार को सरकारी कंपनियों से भी काफी लाभांश या सरप्लस मिलते हैँ।

इन कंपनियों में मूलरूप से भारत पेट्रोलियम, इंडियन ऑयल, हिंदुस्तान पेट्रोलियम, एलआईसी, स्टेट बैंक, यूनियन बैक, पंजाब नेशनल बैंक और बैंक ऑफ बड़ौदा के साथ साथ ओएनजीसी, एनटीपीसी आदि भी हैं। ये लगातार मुनाफा कमाने वाली सरकारी कंपनियां हैं। एसबीआई का चालू वित्तवर्ष में कुल मुनाफा 35 हजार करोड़ रुपए रहने का अनुमान है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.