अडाणी ग्रुप की कंपनियों का मार्केट कैप 11 लाख करोड़ के करीब

मुंबई- अडाणी ग्रुप की कंपनियों का मार्केट कैप पहली बार 11 लाख करोड़ रुपए के करीब पहुंच गया है। इनका कुल वैल्यूएशन 10.95 लाख करोड़ रुपए रहा। इसमें से 3 कंपनियां 2-2 लाख करोड़ रुपए के पार हैं। इस  ग्रुप की कुल 6 कंपनियां लिस्ट हैं, जबकि सातवीं इस साल लिस्ट होगी।  

अडाणी विल्मर की लिस्टिंग की तैयारी कंपनी कर रही है। शुक्रवार को बाजार बंद होने के बाद गौतम अडाणी की रैंकिंग में भी सुधार आया। अब वे दुनिया के 13 वें नंबर के सबसे अमीर बिजनेसमैन हैं। अभी तक वे 14 वें नंबर पर थे। सबसे ज्यादा मार्केट कैप अडाणी ग्रीन एनर्जी का है जो 2.65 लाख करोड़ रुपए है। अडाणी ट्रांसमिशन का 2.21 लाख करोड़ रुपए है।  

अडाणी एंटरप्राइजेज का वैल्यूएशन 2.05 लाख करोड़ रुपए है। अडाणी टोटल गैस का मार्केट कैप 1.98 लाख करोड़ रुपए है। ब्लूमबर्ग बिलिनेयर इंडेक्स की रिपोर्ट के मुताबिक, दुनिया में मुकेश अंबानी 11 वें नंबर के सबसे अमीर बिजनेसमैन हैं। उनकी संपत्ति 7.28 लाख करोड़ रुपए है। जबकि अडाणी की संपत्ति 6.56 लाख करोड़ रुपए है। डॉलर के टर्म में दोनों के बीच करीबन 9.5 अरब डॉलर का अंतर है।  

गौतम अडाणी की कंपनियों के शेयर्स की कीमतें तेजी से बढ़ी हैं। इसमें अडाणी गैस, अडाणी ट्रांसमिशन, अडाणी पावर, अडाणी एंटरप्राइजेज के शेयर अब एक साल के ऊपरी स्तर के करीब हैं। इस वजह से अडाणी की निजी संपत्ति भी बढ़ी है। हाल में अंबानी और अडाणी ने गुजरात में भारी निवेश की घोषणा की है। मुकेश अंबानी गुजरात में ग्रीन एनर्जी और अन्य परियोजनाओं पर अगले 10-15 सालों में 5.95 लाख करोड़ रुपए का निवेश करेंगे। इसमें जियो, रिटेल सहित अन्य सेगमेंट पर फोकस होगा।  

अडाणी ग्रुप राज्य में स्टील प्लांट लगाने के लिए दक्षिण कोरिया की कंपनी पोस्को के साथ 40 हजार करोड़ रुपए की डील की है। वैसे इस साल अभी तक कमाई के मामले में अडाणी जेफ बेजोस, अंबानी और अन्य को पीछे छोड़ दिया है। अडाणी ने इस साल में शुक्रवार तक 9.07 अरब डॉलर यानी करीबन 70 हजार करोड़ रुपए कमाए हैं। जबकि वॉरेन बफे ने इसी दौरान केवल 7.34 अरब डॉलर और मुकेश अंबानी ने 6.80 अरब डॉलर की कमाई की है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.