2021 में किस शेयर ने किया कमाल, यहां पर देखिए

मुंबई- नई लिस्टिंग कंपनियों में मैक्रोटेक ने सबसे ज्यादा फायदा दिया। इसने 183% का फायदा दिया है। लक्ष्मी आर्गेनिक्स ने 174%, बार्बीक्यू नेशन ने 171% का लाभ दिया है।  

इनके अलावा इजी ट्रिप के शेयर ने 148%, सोना बीएलडब्ल्यू के शेयर ने 138, MTAR टेक के शेयर ने 115% का रिटर्न दिया है। स्टोव क्राफ्ट के स्टॉक ने 109%, अनुपम रसायन ने 79 और किम्स ने 46% का फायदा दिया है। इन सभी का IPO 2021 में आया था।  

अब देखते हैं ऐसी कंपनियां जो बड़ी बन गई हैं यानी मेगाकॉर्न बनने वाली हैं। इसमें फ्लिपकार्ट, रेजर पे, बायजू, ओला इलेक्ट्रिक, ड्रीम 11, फार्मइजी, पोस्टमैन और क्रेड हैं।  

अब देखते हैं किसका मार्केट कैप सबसे ज्यादा बढ़ा। इसमें रिलायंस इंडस्ट्रीज का मार्केट कैप 3.35 लाख करोड़ रुपए जबकि टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेस (TCS) का मार्केट कैप 3.03 लाख करोड़ रुपए बढ़ा। इंफोसिस का मार्केट कैप 2.61 लाख करोड़ रुपए और भारतीय स्टेट बैंक (SBI) का मार्केट कैप 1.58 लाख करोड़ रुपए बढ़ा। विप्रो का मार्केट कैप 1.70 लाख करोड़ और अडाणी ट्रांसमिशन का मार्केट कैप 1.36 लाख करोड़ रुपए बढ़ा। 

इसी तरह से निजी सेक्टर के बड़े बैंक ICICI बैंक का मार्केट कैप 1.41 लाख करोड़ रुपए जबकि अडाणी एंटरप्राइजेज का मार्केट कैप 1.33 लाख करोड रुपए और अवेन्यू सुपरमार्ट यानी डीमार्ट का वैल्यूएशन 1.21 लाख करोड़ रुपए बढ़ा।  

अब देखते हैं सबसे ज्यादा संपत्ति किसने बढ़ाई। साल 2021 में सबसे ज्यादा संपत्ति टाटा टेलीकॉम सर्विस ने बढ़ाई। इसने 2373% का फायदा दिया। PTC इंडस्ट्रीज ने 512%, सारेगामा इंडिया ने 526%, ट्राइडेंट ने 431%, पूनावाला फिनकॉर्प ने 452, अडाणी टोटल गैस ने 350% की संपत्ति बढ़ाई। JSW ने 349 और अडाणी ट्रांसमिशन ने 284% का रिटर्न दिया।  

कॉर्पोरेट की बात करें तो सबसे ज्यादा मार्केट कैप टाटा ग्रुप का बढ़ा। इसकी कंपनियों का मार्केट कैप 7.32 लाख करोड़ रुपए बढ़ा। अडाणी ग्रुप का मार्केट कैप 5.23 लाख करोड़, केंद्र सरकार कमर्शियल का मार्केट कैप 4.68 लाख करोड़ और रिलायंस इंडस्ट्रीज ग्रुप का मार्केट कैप 3.43 लाख करोड रुपए बढ़ा। 

इंफोसिस का 2.61 लाख करोड़, बजाज ग्रुप का 2.36 लाख करोड़, SBI ग्रुप का 2.02 लाख करोड़ रुपए, बिड़ला ग्रुप का 1.98 लाख करोड़ रुपए, लार्सन एंड टूब्रो ग्रुप का मार्केट कैप 1.82 लाख करोड़ रुपए बढ़ा। इसी तरह से विप्रो और ICICI ग्रुप का भी मार्केट कैप 1.70 लाख करोड़ औऱ 1.63 लाख करोड़ रुपए बढ़ा।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *