ग्लोबल इकोनॉमी पर डाउनग्रेड का खतरा, IMF का अनुमान

मुंबई- कोरोना का नया वैरिएंट ओमिक्रॉन एक बार फिर वैश्विक अर्थव्यवस्थाओं के लिए निगेटिव काम कर सकता है। ऐसी आशंका है कि इस वजह से ग्लोबल इकोनॉमी को डाउनग्रेड किया जा सकता है।  

अंतरराष्ट्रीय मुद्रा फंड (IMF) की प्रमुख मैनेजिंग डायरेक्टर (MD) क्रिस्टालिना जॉर्जीवा ने शुक्रवार को कहा कि ओमिक्रॉन वैरिएंट वैश्विक अर्थव्यवस्था पर IMF के आउट्लुक को डाउनग्रेड कर सकता है। जॉर्जीवा ने एक लाइव-स्ट्रीम चर्चा में कहा कि एक बात बहुत स्पष्ट दिख रही है। ओमिक्रॉन बहुत तेज़ी से फैल सकता है। यह हमारे आत्मविश्वास को कम कर सकता है। हमें वैश्विक विकास के लिए हमारे अक्टूबर के अनुमानों के कुछ डाउनग्रेड देखने को मिल सकते हैं।

जॉर्जीवा ने कहा कि ओमिक्रॉन के उभरने से पहले ही, IMF डेल्टा वैरिएंट के निगेटिव प्रभावों के कारण वैश्विक विकास की गति में कमी के बारे में चिंतित था। उन्होंने कहा कि डेल्टा विकास में एक बड़ा रोड़ा साबित हुआ जो अमेरिका और चीन में माल के उत्पादन में अतिरिक्त देरी का कारण बना। IMF ने अक्टूबर में अनुमान लगाया था कि विकसित अर्थव्यवस्थाएं 2022 में कोरोना महामारी के पहले के उत्पादन को फिर से हासिल कर लेंगी।  

IMF के प्रमुख ने कहा कि अमेरिकी अर्थव्यवस्था की ताकत का दुनिया भर में सकारात्मक प्रभाव पड़ता है। इसका मतलब यही है कि अमेरिकी फेडरल रिजर्व आने वाले महीने में अपने उदार नीतिगत रुख (accommodative policy) को खत्म कर देगा, जैसा कि अब ज्यादातर अर्थशास्त्री उम्मीद कर रहे हैं।

2022 की संभावनाओं पर बात करते हुए जॉर्जीवा ने कहा कि हम मानते हैं कि पॉलिसी रेट में वृद्धि जल्दी-जल्दी हो सकती है। जॉर्जीवा ने विकासशील देशों में मौजूदा कर्ज के बोझ के लिए अधिक आक्रामक लोन के री-स्ट्रक्चरिंग का आह्वान किया ताकि यह लंबे समय तक बाधा न बने।  

हकीकत यह है कि साल 2022 कर्ज से निपटने के मामले में एक बहुत ही दबाव वाला वर्ष होने जा रहा है। अब तक ब्याज दरें अपेक्षाकृत कम हैं। आगे जाकर ऐसा नहीं भी हो सकता है। जॉर्जीवा ने क्लाइमेट चेंज पर अपने काम की आलोचना के खिलाफ IMF का बचाव किया। उन्होंने कहा कि मुझे लगता है कि आज बहुत से ऐसे लोग हैं जो जलवायु परिवर्तन को स्थिरता, विकास और रोजगार के लिए बहुत महत्वपूर्ण मानते हैं। ऐसा ही है और इस विषय पर IMF के शामिल होने का कारण यह है कि हमारे सदस्यों के लिए यह मायने रखता है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *