ओमिक्रॉन की वजह से टूरिस्ट सेक्टर पर फिर संकट, लेकिन शादियां जमकर होंगी

मुंबई- कोरोना के नए वैरिएंट ओमिक्रॉन ने एक बार फिर से टूरिस्ट सेक्टर को संकट में ला दिया है। इस महीने में क्रिसमस और नए साल पर होने वाली कमाई पर पानी फिरता नजर आ रहा है। हालांकि शादियां जमकर होने वाली हैं।  

लॉकडाउन और यात्रा पर प्रतिबंधों के कारण 2020 का पूरा साल कोविडमहामारी की चपेट में चला गया। अब फिर से ओमिक्रॉन के आने से टूरिस्ट सेक्टरएक बार फिर से संभावित संकट का सामना कर रहा है।  टूरऑपरेटर्स का कहना है कि लोगों ने अब छुट्टियों के लिए प्लान की गईयात्राओं का कैंसिलेशन करना शुरू कर दिया है।  

पिछले तीन दिनों में ट्रैवल एजेंसियों के पास लगभग 20% का कैंसिलेशनआ गया है। 2020 में लंबे लॉकडाउन के बाद, इस छुट्टियों के मौसम मेंटूरिज्म सेक्टर अपनी पुरानी रंगत में वापस आने लगा था। अब लेकिनदुबई, यूरोप और अमेरिका की आउटबाउंड बुकिंग में क्रिसमस और नएसाल के जश्न से पहले ओमिक्रॉन खतरे के कारण गिरावट देखी जा रहीहै।  

महाराष्ट्र द्वारा ताजा यात्रा प्रतिबंधों ने यह चिंता पैदा कर दी है कि अगरअन्य राज्य भी इसका पालन करते हैं तो यह घरेलू पर्यटन को भी प्रभावितकर सकता है।  उदाहरण के लिए, महामारी से पहले, तमिलनाडु से 2019में दिसंबर-जनवरी में पांच लाख लोग बाहर गए थे। 2020 में इसी सीजनमें महामारी के कारण जीरो ग्रोथ देखी गई।  

इस साल इसी अवधि के दौरान, ओमिक्रॉन के खतरे ने इस उद्योग को फिरसे मुश्किल में डाल दिया है। यात्रा और पर्यटन क्षेत्र ने अभी-अभी रिकवरहोना शुरू किया था।  कस्टमाइज्ड सेवाओं की पेशकश करने वालीपारंपरिक ट्रैवल एजेंसियों के प्रति ग्राहकों की दिलचस्पी दिखनी शुरू हुई थी। लेकिन अब तो ऐसा लगता है कि ओमिक्रॉन का खतरा इन सब किएकराए पर पानी फेरने वाला है। 

इंडस्ट्री के जानकारों का कहना है कि टूरिस्ट वाली करीबन 50% बुकिंग कैंसिल हो चुकी हैं। होटल और ट्रैवल इंडस्ट्री को 2020 में 20 से 25 हजार करोड़ रुपए का नुकसान हुआ था। इस वजह से हॉस्पिटालिटी सेक्टर में लोगों की सैलरी 50% तक काट दी गई थी।  

हालांकि शादियों में लोग खूब दिलचस्पी ले रहे हैं। होटल मालिकों का कहना है कि अभी तक शादियों के लिए जो बुकिंग हुई है, उनका एक भी कैंसिलेशन नहीं आया है। बंगलुरू के एक होटल मालिक ने कहा कि शादियों को लेकर इस बार बिजनेस अच्छा है और अभी तक कोई भी बुकिंग कैंसिल नहीं हुई है। शादियों के टॉप 5 होटल्स में ताज लेक पैलेस उदयपुर, आईटीसी ग्रैंड भारत गुड़गांव, ताज उमैद भवन जोधपुर और लीला पैलेस जयपुर हैं।   

दिल्ली के ली मैरेडियन होटल का भी इसी तरह का मामला है। यहां भी अभी तक बुकिंग कैंसिलेशन के कोई मामले नहीं हैं। दिसंबर पूरी तरह से शादियों का महीना है। जनवरी में भी यही हाल रहेगा। नवंबर में एक ही दिन में दिल्ली में 8 हजार शादियां हुई थीँ। उस दिन यहां पर होटल्स मिलने मुश्किल हो गए थे।  

अकॉर के एक अधिकारी के मुताबिक, उनकी बुकिंग पर कोई भी डायरेक्ट असर ओमिक्रॉन का नहीं है। ऑन लाइन ट्रैवल प्लेटफॉर्म इजी माई ट्रिप की 14 नवंबर से 13 दिसंबर के बीच ट्रैवल बुकिंग में 100% का इजाफा दिखा है। शादियों के लिए सबसे पसंदीदा जगह मसूरी, शिमला, नैनीताल, गोवा, उदयपुर, रिषिकेश और पोट ब्लेयर हैं।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *