मार्केट कैप में HDFC ग्रुप दूसरे नंबर पर, रिलायंस समूह को पीछे छोड़ा

मुंबई- मार्केट कैप के लिहाज से HDFC ग्रुप अब दूसरा सबसे बड़ा ग्रुप बन गया है। HDFC ग्रुप का मार्केट कैप 15.56 लाख करोड़ रुपए है जबकि रिलायंस समूह का मार्केट कैप 15.24 लाख करोड़ रुपए है। इसने रिलायंस समूह को पीछे छोड़ा है। सोमवार को रिलायंस इंडस्ट्रीज का शेयर 4% से ज्यादा टूटा। इससे इसके मार्केट कैप में करीबन 70 हजार करोड़ रुपए की कमी आई। इसका मार्केट कैप NSE पर 14.99 लाख करोड़ रुपए रह गया।  

सोमवार को अकेले रिलायंस के मार्केट कैप में 70 हजार करोड़ रुपए की कमी आई। दरअसल इसकी सऊदी अरामको की डील अटक गई है। सऊदी अरामको ने सोमवार को कहा कि वह भारत में नए सिरे से नए पार्टनर की तलाश में है। वह यहां पर निवेश की संभावना देख रही है। इस वजह से इसके शेयर्स पर दबाव दिखा।  

शेयर बाजार में सबसे ज्यादा लिस्टेड कंपनियां टाटा ग्रुप की हैं। इसकी कुल 29 कंपनियां लिस्टेड हैं। जबकि रिलायंस की 10 और HDFC ग्रुप की 5 कंपनियां लिस्टेड हैं। ग्रुप के मार्केट कैप के लिहाज से चौथे नंबर पर अडाणी ग्रुप है। इसका कुल मार्केट कैप 9 लाख करोड़ रुपए के आस-पास है। इसकी 6 कंपनियां बाजार में लिस्टेड हैं। हालांकि ICICI ग्रुप की भी 4 कंपनियां लिस्ट हैं। इनका मार्केट कैप 7 लाख करोड़ रुपए से थोड़ा ऊपर है।  

18 अक्टूबर को बाजार में लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 274 लाख करोड़ रुपए था। सोमवार को यह 260.98 लाख करोड़ रुपए रहा। यानी एक महीने में इसमें 13 लाख करोड़ रुपए की कमी आई है। अगर इस दौरान पेटीएम और नायका लिस्ट नहीं होते तो इसमें 2 लाख करोड़ रुपए की कमी और आती। हालांकि एक महीने में कुछ और छोटी कंपनियां भी लिस्ट हुई हैं।  

ग्रुप के लिहाज से टाटा ग्रुप सबसे बड़ा है। इसकी कुल 29 लिस्टेड कंपनियों का मार्केट कैप 21.99 लाख करोड़ रुपए है। 18 अक्टूबर को इसका मार्केट कैप 23.69 लाख करोड़ रुपए था। इसके मार्केट कैप में 1.70 लाख करोड़ रुपए की कमी आई है। सबसे बड़ी कंपनी टाटा कंसलटेंसी सर्विसेस (TCS) है। इसका मार्केट कैप 12.80 लाख करोड़ रुपए है। 18 अक्टूबर को 13.49 लाख करोड़ रुपए था। दूसरी बड़ी कंपनी टाइटन का मार्केट कैप 2.29 लाख करोड़ रुपए है। 

दूसरे नंबर पर HDFC ग्रुप का कुल मार्केट कैप 15.56 लाख करोड़ रुपए है। 18 अक्टूबर को यह 16.39 लाख करोड़ रुपए था। इसमें सबसे बड़ी कंपनी HDFC बैंक है। इसका मार्केट कैप 18 अक्टूबर को 9.24 लाख करोड़ रुपए था जो अब 8.39 लाख करोड़ रुपए है। इसमें दूसरे नंबर पर HDFC लिमिटेड है। इसका मार्केट कैप 5.23 लाख करोड़ रुपए है। 

तीसरे नंबर पर रिलायंस के ग्रुप का मार्केट कैप 22 नवंबर को 15.24 लाख करोड़ रुपए रह गया। 18 अक्टूबर को यह 18.50 लाख करोड़ रुपए था। यानी 3.27 लाख करोड़ रुपए की कमी इसमें आई है। इस ग्रुप की सबसे बड़ी कंपनी रिलायंस इंडस्ट्रीज है। इसका मार्केट कैप 14.98 लाख करोड़ रुपए है। 18 अक्टूबर को 17.16 लाख करोड़ रुपए मार्केट कैप था। यानी इसमें 2.18 लाख करोड़ रुपए की कमी आई है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *