अडाणी ग्रुप की कंपनियों का मार्केट कैप 10 लाख करोड़ के करीब

मुंबई- अडाणी ग्रुप की लिस्टेड कुल 6 कंपनियों का मार्केट कैप 9.91 लाख करोड़ रुपए हो गया है। इस वजह से ग्रुप के मालिक गौतम अडाणी अब दुनिया में 14 वें नंबर के सबसे अमीर बिजनेसमैन बन गए हैं। मार्केटकैप एक साल के टॉप पर है। अडाणी की सातवीं कंपनी सेबी के पास IPO लाने के लिए अर्जी दी है। इस महीने तक उसे मंजूरी मिलने की उम्मीद है। अडाणी विल्मर FMCG सेक्टर की कंपनी है।  

पिछले 3 महीने से अडाणी ग्रुप की सभी कंपनियों के शेयर्स की कीमतों में जमकर तेजी आई है। 14 जून को इन कंपनियों में विदेशी निवेशकों के निवेश को लेकर खबर आई थी। जिसमें कहा गया था कि विदेशी निवेशकों का कोई अता-पता नहीं है और अडाणी के शेयर में निवेश करने वाली सभी विदेशी कंपनियां एक ही पते पर रजिस्टर्ड हैं। इसके बाद इस ग्रुप के सभी शेयर्स की कीमतों में जमकर गिरावट आई थी।  

गिरावट की वजह से ग्रुप का कुल मार्केट कैप 3 जुलाई को 7.08 लाख करोड़ रुपए हो गया था। हालांकि 11 जून को इन कंपनियों का मार्केट कैप 9.42 लाख करोड़ रुपए था। आज यह आंकड़ा 9.91 लाख करोड़ रुपए है। यानी जुलाई की तुलना में इसमें 2.82 लाख करोड़ रुपए की बढ़त हुई है। इस वजह से गौतम अडाणी जुलाई में दुनिया के अमीर बिजनेसमैन की रैंकिंग में 24 वें नंबर पर फिसल गए थे। 14 जून से 30 जूनके बीच इन कंपनियों के शेयर्स में 50% तक की गिरावट दर्ज की गई थी।  

अभी अडाणी पोर्ट का शेयर 750 रुपए पर है। इसका मार्केट कैप 1.53 लाख करोड़ रुपए हो गया है। इसमें 8 हजार करोड़ रुपए की बढ़त आई है। अडाणी टोटल गैस का शेयर एक साल के ऊपरी स्तर पर 1,715 रुपए पर पहुंच गया है। इसका मार्केट कैप 185,118 करोड़ रुपए है। 3 जुलाई को यह 101,226 करोड़ रुपए था। इसमें 83,892 करोड़ रुपए की बढ़त हुई है। अडाणी ट्रांसमिशन का शेयर एक साल के टॉप पर 1,995 रुपए पर कारोबार कर रहा है। इसका मार्केट कैप 1.05 लाख करोड़ से बढ़कर 2.19 लाख करोड़ रुपए हो गया है। इसमें 1.13 लाख करोड़ रुपए की बढ़त आई है। 

अडाणी एंटरप्राइजेज का शेयर शुक्रवार को एक साल के टॉप पर है। इसका मार्केट कैप 1.56 लाख करोड़ रुपए से बढ़कर 1.90 लाख करोड़ रुपए हो गया है। इसमें 34 हजार करोड़ रुपए की बढ़त हुई है। अडाणी पावर का शेयर 109 रुपए पर है। इसका मार्केट कैप 43 हजार करोड़ रुपए है। अडाणी ग्रीन एनर्जी का शेयर 1,286 रुपए पर कारोबार कर रहा है। इसका मार्केट कैप 1.57 लाख करोड़ से बढ़कर 2 लाख करोड़ रुपए हो गया है। इसमें 43 हजार करोड़ रुपए की बढ़त आई है।  

जुलाई में शेयर्स की कीमत घटने से अडाणी की संपत्ति घटकर 63.5 अरब डॉलर हो गई थी। तब से अब तक उनकी संपत्ति करीबन 20 अरब डॉलर बढ़ी है। ग्रुप कंपनियों के शेयर्स की कीमतों में तेजी से अडाणी की भी निजी संपत्ति बढ़ गई है। फोर्ब्स के आंकड़ों के मुताबिक अडाणी की संपत्ति 81.2 अरब डॉलर है। वे दुनिया में अमीर बिजनेसमैन की रैंकिंग में 14 वें नंबर पर हैं। रिलायंस इंडस्ट्रीज के मुकेश अंबानी इस लिस्ट में 11 वें नंबर पर हैं। उनकी संपत्ति 98.8 अरब डॉलर है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *