पेटीएम की लिस्टिंग में नहीं होगा कोई फायदा, ज्यादा जोखिम है

मुंबई- पेटीएम के निवेशकों के लिए खराब खबर है। लिस्टिंग में इस कंपनी के शेयर्स में बहुत ज्यादा फायदा नहीं होगा। साथ ही इसमें निवेश पर जोखिम है। ब्लूमबर्ग ने कहा कि यह बहुत ज्यादा जोखिम वाला दांव है। स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्ट होने वाले इसके शेयर्स में कोई फायदा नहीं होगा।  

अल्डर कैपिटल की इन्वेस्टमेंट मैनेजर राखी प्रसाद ने ब्लूमबर्ग टीवी को दिए इंटरव्यू में कहा कि पेटीएम मर्चेंट्स के नजरिए से डिजिटल पेमेंट्स में बड़ा प्लेटफॉर्म है। पर इसे फायदा कमाने में अभी लंबा रास्ता तय करना है। राखी प्रसाद ने कहा कि इस कंपनी के IPO में काफी बड़ा जोखिम है। वैसे फिलहाल इस हफ्ते फिनो पेमेंट्स बैंक और नायका की लिस्टिंग है। इसमें नायका का शेयर्स अच्छे खासे प्रीमियम पर लिस्ट हो सकता है।  

मध्यम से लंबे समय के दौरान इसमें फायदा नहीं होने वाला है। यहां तक कि शॉर्ट टर्म में भी इसके शेयर्स में कोई तेजी नहीं दिख सकती है। उन्होंने कहा कि IPO में डिमांड आ सकती है, पर लिस्टिंग में वैसा फायदा नहीं होगा, जैसा हमने दूसरी कंपनियों की लिस्टिंग के समय देखा है। पेटीएम का IPO सोमवार को खुला है और बुधवार को बंद होगा। पहले दिन इसे केवल 18% का सब्सक्रिप्शन मिला था। दूसरे दिन भी यह पूरी तरह से नहीं भर पाया है।  

दूसरे दिन इसे 47% रिस्पांस मिला है। हालांकि रिटेल निवेशकों का हिस्सा 1.20 गुना सब्सक्राइब हुआ है। रिटेल निवेशकों के लिए इस IPO में केवल 10% हिस्सा रिजर्व है। यानी 18,300 करोड़ रुपए में से रिटेल को केवल 1,891 करोड़ रुपए के ही शेयर्स मिलेंगे। 2,837 करोड़ रुपए नॉन इंस्टीट्यूशनल (NII) के लिए और 5,674 करोड़ रुपए क्वालीफाइड इंस्टीट्यूशनल बॉयर्स (QIB) के लिए है। इसका मूल्य दायरा 2,080 से 2,150 रुपए तय किया गया है।  

एंकर निवेशकों ने इसमें अपने हिस्से का 10 गुना ज्यादा पैसा लगाया है। पेटीएम IPO ऐसे समय में आया है, जब देश में ढेर सारे यूनिकॉर्न बने हैं और फिनटेक कंपनियां इश्यू लाने में बिजी हैं। जोमैटो से लेकर नायका तक के इश्यू को अच्छा खासा रिस्पांस पहले दिन मिला था। लेकिन पेटीएम इसमें फेल रही। इस साल जितने भी इश्यू आए हैं, लिस्टिंग में सभी ने अच्छा खासा प्रदर्शन किया है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.