बिटकॉइन की कीमत 66 हजार डॉलर के पार पहुंची, पहली बार इस लेवल पर पहुंची कीमत

मुंबई- क्रिप्टो की लोकप्रिय करेंसी बिटकॉइन की कीमत 66 हजार डॉलर के पार पहुंच गई है। पहली बार इस लेवल पर बिटकॉइन की कीमत पहुंची है। देर रात यह 6% बढ़त के साथ कारोबार कर रही थी। इसकी अंतिम कीमत 66,974 डॉलर पर थी।  

बिटकॉइन की अभी तक की सबसे ज्यादा कीमत अप्रैल 2021 में थी। उस समय बिटकॉइन 64,889 डॉलर पर कारोबार कर रही थी। उसके बाद इस करेंसी में भारी गिरावट आई थी। इस कारण बिटकॉइन की कीमत 30 हजार डॉलर तक पहुंच गई थी। जानकारों का मानना है कि बहुत जल्द बिटकॉइन की कीमत एक लाख डॉलर के आंकड़े को पार कर सकती है।  

बिटकॉइन की कीमतों में तेजी से इसका मार्केट कैप 2.5 लाख करोड़ डॉलर के पार पहुंच गया है। अधिकांश निवेशकों को क्रिप्टो में निवेश के लिए कहा जा रहा है। भारत में क्रिप्टो का बाजार 2030 तक 241 मिलियन डॉलर होने की उम्मीद है। दुनिया भर में 2.3 अरब डॉलर का बाजार 2026 तक हो सकता है। नैस्कॉम की रिपोर्ट के मुताबिक, भारत में क्रिप्टो के सेगमेंट में निवेशकों की संख्या 1.5 करोड़ है।  

बिटकॉइन की तेजी का प्रमुख कारण यह है कि अमेरिका ने बिटकॉइन एक्सचेंज ट्रेडेड फंड (ETF) लॉन्च कर दिया है। बुधवार को कारोबार के पहले ही तीन घंटे में बिटकॉइन का कुल वोल्यूम 19.6 मिलियन रहा। इससे निवेशकों का उत्साह जबरदस्त तेजी में है। इससे पहले अलसल्वाडोर नामक देश ने बिटकॉइन को कानूनी मान्यता दे दी थी।  

ETF शुरू होने से बिटकॉइन को एक नई इंडस्ट्री के रूप में देखा जा रहा है। जुलाई में बिटकॉइन की कीमत 32 हजार से भी नीचे पहुंच गई थी। यानी अप्रैल के भाव से इसमें 50% की गिरावट आई थी। जबकि जुलाई की तुलना में अब बिटकॉइन की कीमत 100% बढ़ गई है। क्रिप्टो की तमाम करेंसीज में बिटकॉइन सबसे लोकप्रिय है। क्रिप्टो के जानकारों का मानना है कि नवंबर में बिटकॉइन की कीमत 98 हजार डॉलर और साल के अंत में 1.35 लाख डॉलर तक जा सकती है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *