अकाउंट से पैसा निकालने की कोशिश में HDFC बैंक के 3 कर्मचारी गिरफ्तार

मुंबई- दिल्ली पुलिस ने HDFC बैंक के 3 इम्प्लॉई समेत 12 लोगों को गिरफ्तार किया है। ये लोग विदेश में रहने वाले एक भारतीय के अकाउंट से चोरी-छिपे पैसा निकालने की कोशिश कर रहे थे। इन तीनों को बैंक ने नौकरी से निकाल दिया है। साइबर क्राइम यूनिट ने बताया कि इस ग्रुप ने 66 बार ऑनलाइन पैसा निकालने की कोशिश की थी। जांच से पता चला है कि HDFC बैंक कर्मचारी को 10 लाख रुपए और 15 लाख रुपए के इंश्योरेंस बिजनेस का वादा किया गया था। 

आरोपियों ने अकाउंट होल्डर के KYC में रजिस्टर्ड अमेरिकी मोबाइल नंबर जैसा ही एक भारतीय मोबाइल फोन नंबर भी हासिल किया था। आरोपियों से चेक बुक भी बरामद की गई है। इस संबंध में बैंक ने ही साइबर क्राइम यूनिट में शिकायत दर्ज कराई थी। इसमें कहा गया कि संबंधित अकाउंट में कई बार अनऑथराइज्ड इंटरनेट बैंकिंग अटैंप्ट देखे गए हैं। आरोपी धोखाधड़ी से प्राप्त चेक बुक का उपयोग करके इस अकाउंट से कैश निकालना चाहते थे। उन्होंने नए मोबाइल नंबर को अपडेट करने की कोशिश भी की थी। 

अनऑथराइज्ड इंटरनेट बैंकिंग अटैंप्ट को देखते हुए, दिल्ली पुलिस ने मामले की जांच के लिए एक टीम गठित की थी। टीम को टेक्निकल फुटप्रिंट और ह्यूमन इंटेलिजेंस के आधार पर दोषियों की पहचान करने का काम सौंपा गया था। टेक्निकल एविडेंस, फुटप्रिंट और ह्यूमन इंटेलिजेंस के आधार पर, कई जियोलोकेशन्स की पहचान की गई। दिल्ली, हरियाणा और उत्तर प्रदेश में 20 जगहों पर छापेमारी की गई, जिनमें 12 लोगों को गिरफ्तार किया गया। इनमें तीन HDFC बैंक के कर्मचारी हैं, जो चेक बुक जारी करने, मोबाइल फोन नंबर अपडेट करने में शामिल थे। 

आरोपियों ने खुलासा किया कि मास्टरमाइंड को पता चला था कि इस NRI अकाउंट में काफी सारा फंड है और ये लंबे समय से निष्क्रिय पड़ा है। इसके बाद मास्टरमाइंड ने तीन अन्य लोगों को अपने साथ जोड़ा और अकाउंट के बारे में जानकारी जुटाई। HDFC के एक कर्मचारी की मदद से उन्होंने उस अकाउंट की चेक बुक हासिल की और अकाउंट का डेट फ्रीज भी हटा दिया।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *