अडाणी विल्मर, नायका और स्टार हेल्थ का इसी महीने आ सकता है IPO

मुंबई- अडाणी विल्मर, स्टार हेल्थ और नायका इसी महीने IPO ला सकती हैँ। तीनों कंपनियों को सेबी की मंजूरी मिल चुकी है। अडाणी विल्मर और स्टार हेल्थ को शुक्रवार को जबकि नायका को उससे पहले इसी हफ्ते में मंजूरी मिली थी। अडाणी विल्मर 2027 तक देश में सबसे बड़ी फूड कंपनी बनने का लक्ष्य रखी है। यह FMCG सेक्टर में काम करती है। 

स्टार हेल्थ 5,500 करोड़ में से 2,000 करोड़ रुपए फ्रेश इश्यू के जरिए जुटाएगी। बाकी ऑफर फॉर सेल के जरिए जुटाएगी। ऑफर फॉर सेल के तहत 3.06 करोड़ शेयर जारी किए जाएंगे। स्टार हेल्थ में राकेश झुनझुनवाला का भी निवेश है। 

अडाणी विल्मर, अडाणी ग्रुप की सातवीं कंपनी होगी जो शेयर बाजार में लिस्ट होगी। इससे पहले 6 कंपनियां इस ग्रुप की लिस्ट हो चुकी हैं। अडाणी विल्मर IPO के जरिए 4,500 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखी है। कंपनी खाने के तेल को फॉर्च्यून ब्रांड के तहत बेचती है। यह कंपनी विल्मर इंटरनेशनल के साथ ज्वाइंट वेंचर में है। अनुमान है कि इस महीने में 10 IPO आ सकते हैं। इसके जरिए कंपनियां 20 हजार करोड़ रुपए जुटा सकती हैं। 

अडाणी ग्रुप पोर्ट, पावर और इंफ्रा जैसे सेक्टर में काम करता है। दूसरी ओर निजी सेक्टर की हेल्थ इंश्योरेंस कंपनी स्टार हेल्थ भी IPO की तैयारी में है। इसे भी सेबी की मंजूरी शुक्रवार को मिली। हेल्थ इंश्योरेंस सेक्टर में कंपनी की बाजार हिस्सेदारी 15.8% है। कंपनी IPO से 5,500 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखी है। नायका, अडाणी और स्टार हेल्थ मिलकर 14 हजार करोड़ रुपए जुटा सकती हैं। इसके अलावा फिनकेयर स्माल फाइनेंस बैंक, उत्कर्ष स्माल फाइनेंस बैंक और एमक्योर फार्मा का भी IPO इसी महीने आने वाला है।  

पिछले हफ्ते ही डिजिटल पेमेंट्स प्लेटफॉर्म मोबिक्विक को सेबी की तरफ से IPO लाने की मंजूरी मिली थी। कंपनी इसके जरिए 1,900 करोड़ रुपए जुटाएगी। यह इश्यू भी इसी महीने आ सकता है। मोबिक्विक का वैल्यूएशन 1 अरब डॉलर यानी 7,500 करोड़ रुपए के करीब है। कंपनी अगले हफ्ते तक इस संबंध में इश्यू लाने का फैसला करेगी। कंपनी सेबी के पास जब अर्जी की थी, उस समय 1 अरब डॉलर के वैल्यूएशन का अनुमान लगा रही थी। 

तीसरी तिमाही यानी अक्टूबर से दिसंबर के बीच 35-40 कंपनियां IPO लाने की तैयारी में हैं। इसके जरिए यह कंपनियां 80 हजार करोड़ रुपए जुटा सकती हैँ। इससे पहले सबसे ज्यादा रकम 2017 में कंपनियों ने IPO के जरिए जुटाए थे। उस साल में 72 हजार करोड़ रुपए की रकम जुटाई गई थी। सितंबर में 5 कंपनियों ने 6,700 करोड़ रुपए IPO से जुटाए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *