एलआईसी म्यूचुअल फंड लॉन्च करेगा बैलेंस एडवांटेज फंड, 20 को खुलेगा एनएफओ

मुंबई- LIC म्यूचुअल फंड एसेट मैनेजमेंट लिमिटेड ने बैलेंस्ड एडवांटेज फंड लॉन्च करने की तैयारी की है। यह एक ओपन-एंडेड डायनेमिक असेट एलोकेशन फंड होगा जिसमें वैल्यूएशन और कमाई जैसे पैरामीटर्स के जरिए इक्विटी, डेट और मनी मार्केट इंस्ट्रूमेंट्स में निवेश किया जा सकेगा। यह नया फंड ऑफर (NFO) सब्सक्रिप्शन के लिए 20 अक्टूबर को खुलेगा और 3 नवंबर को बंद हो जाएगा। 

एलआईसी म्यूचुअल फंड के बैलेंस एडवांटेज फंड के फंड मैनेजर इक्विटी हिस्से के लिए योगेश पाटिल और डेट हिस्से के लिए राहुल सिंह को बनाया जाएगा। इस फंड को एक कस्टमाइज्ड इंडेक्स, एलआईसी एमएफ हाइब्रिड कम्पोजिट 50:50 इंडेक्स के खिलाफ बेंचमार्क किया गया है। 

निवेशकों को इक्विटी टैक्सेशन बेनिफिट्स का फायदा देने के लिए फंड का लक्ष्य सकल इक्विटी आवंटन 65 फीसदी या उससे अधिक रखना होगा। हालांकि पिछले कुछ सालों में बैलेंस्ड एडवांटेज फंडों को लोगों ने काफी ज्यादा पसंद किया है और तेजी से उछाल आया है। 

इसकी वजह ये रही कि एसेट मैनेजमेंट कंपनियां (AMCs) अपने प्रभावी इक्विटी एक्सपोजर को 65 फीसदी से कम करने के लिए डेरिवेटिव का इस्तेमाल करती हैं। जबकि सकल एक्सपोजर को 65 फीसदी या उससे अधिक पर बनाए रखती हैं। अगर एक इक्विटी-ओरिएंटेड म्यूचुअल फंड को एक साल के बाद भुनाया जाता है तो निवेशकों पर 1 लाख रुपये से अधिक के कैपिटल गेन पर 10 फीसदी टैक्स लगाया जाता है। 

एक साल से पहले रिडेमप्शन पर 1 फीसदी एक्जिट लोड होगा, जो आवंटित इकाइयों के केवल 12 फीसदी से अधिक का शुल्क लिया जाएगा। आवंटन की तारीख से 12 महीने पूरे होने के बाद कोई एक्जिट लोड नहीं होगा। एलआईसी म्यूचुअल फंड के सीईओ दिनेश पंगटे ने कहा, बॉन्ड प्रतिफल, एक तरह से, इक्विटी में निवेश की अवसर लागत और जोखिम उठाने की क्षमता का प्रतिनिधित्व करते हैं। हम एलआईसी फंड में बैलेंस एडवांटेज फंड में इक्विटी और डेट के बीच इसके उल्टे संबंध का उपयोग इक्विटी से डेट में स्विच करने के लिए करेंगे। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *