कार देखो ने 250 मिलियन डॉलर जुटाए, 1.2 बिलियन डॉलर वैल्यूएशन

मुंबई- भारत के सबसे बड़े कार सर्च प्लेटफॉर्म कार देखो ने 250 मिलियन डॉलर के फंडिंग राउंड को पूरा कर लिया है, जिसमें आईपीओ से पहले के दौर में 200 मिलियन डॉलर की सीरीज ई इक्विटी और 50 मिलियन डॉलर का कर्ज शामिल है। मौजूदा पूंजी जुटाए जाने के साथ ही कार देखो 1.2 बिलियन डॉलर के मूल्यांकन के साथ यूनिकॉर्न क्लब में शामिल होने वाली जयपुर की पहली कंपनी बनने में सफल रही है। 

कार देखो की तरफ से यह अब तक की सबसे बड़ी पूंजी जुटाए जाने की प्रक्रिया रही है। इस फंडिंग के जरिए जुटाई गई पूंजी का इस्तेमाल कार देखो के यूज्ड कार ट्रांजैक्शन,वित्तीय सेवाओं और बीमा कारोबार में तेजी लाने, मजबूत उत्पाद और तकनीकी कुशलता हासिल करने, ब्रांड जागरूकता बढ़ाने और नए बाजारों में विस्तार करने के लिए किया जाएगा। 

कारदेखो वर्तमान में 100 से अधिक बाजारों में ग्राहकों से कारों की खरीदारी करता है और ऑनलाइन खरीद के लिए इसके पास 3,000 से अधिक सर्टिफाइड प्रि-ओन्‍ड कारों की सूची है। कंपनी भौगोलिक रूप से अपने यूज्ड कार के खुदरा कारोबार का विस्तार करेगी और निकट भविष्य में अपने कैटेलॉग का विस्तार 10,000 कारों तक करने के लिए तैयार है। 

कंपनी ने पूरे भारत में खुदरा केंद्रों के साथ विस्तार करने की योजना बनाई है जो ग्राहकों के साथ पुरानी कार खरीदने और सर्टिफाइड प्रि-ओन्‍ड कार खुदरा लेनदेन दोनों पर ध्यान केंद्रित करेंगे। कार देखो टीम वर्तमान में भारत, इंडोनेशिया और फिलीपींस में मौजूद है और इसका उद्देश्य अंतरराष्ट्रीय स्तर पर विस्तार करने के लिए पूंजी का उपयोग करना है। कंपनी के ऑटो और गैर-ऑटो उत्पाद वर्तमान में वैश्विक स्तर पर 30 से अधिक देशों में इस्तेमाल किए जाते हैं। 

कार देखो के सह-संस्थापक और सीईओ अमित जैन ने कहा, ”एक कार रिसर्च पोर्टल होने से कार देखो, कार खरीदने, उसके जीवन चक्र प्रबंधन और बिक्री के लिए एक पूर्ण पारिस्थितिकी तंत्र बन कर उभरा है। हम अपने ग्राहकों को सशक्त बनाने और उन्हें सुविधाजनक और परेशानी रहित अनुभव प्रदान करने के लिए प्रतिबद्ध हैं। जुटाई गई नई पूंजी हमें अपने यूज्ड कार लेनदेन और वित्तीय सेवाओं के कारोबार का विस्तार करने में मदद करेगा। हमारे निवेशकों का विश्वास और दृढ़ विश्वास हमें अपनी विकास योजनाओं में तेजी लाने में मदद करेगा, जबकि हम अपने ग्राहकों को एक ऐसा अनुभव प्रदान करेंगे जो कार खरीदने और बेचने की प्रक्रिया को नए सिरे से पारिभाषित करेगा।” 

फंडिंग राउंड में जिन अन्य नए निवेशकों ने भाग लिया उनमें यूएस स्थित कैन्यन पार्टनर्स, मिराए एसेट, और हार्बर स्प्रिंग कैपिटल शामिल थे। कार देखो के मौजूदा निवेशकों सिकोइया कैपिटल इंडिया और सनली हाउस ने कंपनी पर अपने भरोसे को बरकरार रखते हुए उसमें निवेश जारी रखा है। सिकोइया कैपिटल इंडिया कार देखो के शुरुआती निवेशकों में से एक थी, जिसने 2013 में सीरीज ए राउंड और 2018 में सीरीज सी राउंड का नेतृत्व किया था। 

कार देखो के डिजिटल प्लेटफॉर्म, ‘न्यू ऑटो’ और इसका वित्तीय सेवा कारोबार पहले से ही मुनाफे में है। वहीं बीमा कारोबार InsuranceDekho.com ने ब्रेक ईवन (न लाभ न हानि की स्थिति) बिंदु को पार कर लिया है। नए निवेश के साथ, कार देखो कार खरीदने, बेचने और अपने ग्राहकों के लिए एक सुखद, पारदर्शी और किफायती अनुभव देने के अपने दृष्टिकोण के करीब पहुंच गया है। 

कार देखो भारत में ऑटो इकोसिस्टम को डिजिटल बनाने में अग्रणी रहा है और अपनी समूह कंपनियों के साथ, यह मूल उपकरण निर्माताओं, डीलरों, कार खरीदारों और विक्रेताओं सहित सभी ऑटो हितधारकों के लिए पसंदीदा स्थान बन गया है। कारदेखो 3,500 से अधिक नए ऑटो डीलरों और 4,000 से अधिक यूज्ड कार डीलरों, घरेलू व्यापारियों और उद्यमियों के साथ सक्रिय रूप से काम करता है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *