5 मिनट में IT कंपनियों के मार्केट कैप में 1.32 लाख करोड़ रुपए की कमी

मुंबई- शेयर बाजार आज रिकॉर्ड बनाया। निफ्टी 18 हजार के पार गया। लेकिन सूचना एवं प्रौद्योगिकी (IT) कंपनियों के शेयर्स ने निवेशकों को निराश किया है। IT कंपनियों के शेयर्स की कीमतों में गिरावट से इनके मार्केट कैप में 5 मिनट में 1.32 लाख करोड़ रुपए की कमी आई है।

दूसरी तिमाही के फाइनेंशियल रिजल्ट आने शुरू हो गए हैं। सबसे पहले टाटा कंसलटेंसी सर्विसेस (TCS) ने शुक्रवार को अपना रिजल्ट जारी किया था। कंपनी के फायदे और रेवेन्यू में अच्छी बढ़त तो हुई, पर एनालिस्ट्स के अनुमान के मुताबिक रिजल्ट नहीं रहा।

जेपी मोर्गन ने कहा कि TCS का रिजल्ट हमारे अनुमान की तुलना में 20 bps कम रहा। (1 पर्सेंट में 100 बीपीएस) हालांकि कंपनी ने दूसरी तिमाही में 7.6 अरब डॉलर की अच्छी खासी नई डील भी हासिल की थी। पर मार्जिन और रेवेन्यू में वह एनालिस्ट्स के अनुमान पर खरा नहीं उतर पाई। TCS का शेयर आज सुबह 6.6% गिर कर 3,660 रुपए पर पहुंच गया। इसका मार्केट कैप 13.68 लाख करोड़ रुपए रहा। शुक्रवार को यह 14.55 लाख करोड़ रुपए था। यानी इसमें 87,409 करोड़ रुपए की कमी आई है।

इंफोसिस के शेयर में आज 3% की गिरावट आई। इसका शेयर 1,675 रुपए पर कारोबार कर रहा है। इसका मार्केट कैप 20,148 करोड़ रुपए घट कर 7.10 लाख करोड़ रुपए रह गया। विप्रो का शेयर 3% गिर कर 635 रुपए पर पहुंच गया था। इससे इसके मार्केट कैप में 10,715 करोड़ रुपए की कमी आई। इंफोसिस का फाइनेंशियल रिजल्ट इसी हफ्ते आनेवाला है।

HCL के मार्केट कैप में 9,823 करोड़ रुपए की कमी आई जबकि टेक महिंद्रा के मार्केट कैप में 4,179 करोड़ रुपए की कमी आई। यह दोनों स्टॉक 3-3% गिरावट के साथ कारोबार कर रहे थे। TCS का शेयर 4 हजार के ऊपर पहुंच गया था। आज बीएसई सेंसेक्स 60 हजार के ऊपर जबकि एनएसई का निफ्टी पहली बार 18 हजार के ऊपर कारोबार कर रहा है।

कोटक इंस्टीट्यूशनल ने अपनी रिपोर्ट में कहा कि IT कंपनियों के प्रदर्शन में कमी आ सकती है। खास कर प्रति शेयर आय में 3-4% की गिरावट दिख सकती है। हालांकि इसने कहा है कि डिजिटलाइजेशन की वजह से मांग में मजबूती बनी रहेगी और डिजिटल डील भी कंपनियां अच्छा करेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *