ETF में निवेश करते हैं तो जानिए किस तरह का यह फंड है

मुंबई- एक्सचेंज ट्रेडेड फंड यानी ETF निवेश फंड है जो एक इंडेक्स को ट्रैक करता है और इसे दोहराता है। ETF एक साथ इक्विटी, डेट और गोल्ड जैसे अलग-अलग एसेट क्लास में निवेश कर सकता है। इसे शेयर की तरह एक्सचेंज पर खरीदा और बेचा जाता है। इसमें निवेश की लागत काफी कम होती है। 

ईटीएफ के जरिये आप कई एसेट क्लास, मसलन इक्विटी, बॉन्ड और गोल्ड में निवेश कर सकते हैं। हर एसेट क्लास अलग तरह से व्यवहार करता है और उसके प्रदर्शन में बहुत कम या कोई आपसी संबंध नहीं होता है। यह किसी एक एसेट क्लास में अस्थिरता से निपटने में मदद करता है।

ईटीएफ में किया गया निवेश सिक्युरिटीज के एक विस्तृत सेट के बीच वितरित होता है, जो अंतर्निहित इंडेक्स का एक हिस्सा होता है। उदाहरण के लिए, यदि आप ईटीएफ में 500 रुपए का निवेश करते हैं, तो आपका पैसा इंडेक्स में शामिल सभी शेयरों में वितरित हो जाएगा। यह इक्विटी की तुलना में फायदेमंद है, जिसमें आपको किसी एक कंपनी का पूरा शेयर खरीदना होता है।

 ईटीएफ रोजाना एक्सचेंज पर ट्रेड करता है। इसमें कोई लॉक-इन पीरियड नहीं होता है। इस तरह यह आपको लिक्विडिटी का बेनिफिट देता है, जिसका अर्थ है कि जब भी जरूरत हो, आप आसानी से अपने निवेश से बाहर निकल सकते हैं। ईटीएफ को मैनेज करने की फीस कम होती है क्योंकि वे सक्रिय रूप से प्रबंधित फंड नहीं होते हैं। इसके चलते निवेश की लागत कम हो जाती है।

ईटीएफ ट्रेडिंग में फ्लेक्सिबिलिटी प्रदान करते हैं। बाजार के घंटों के दौरान इन फंडों के साथ दैनिक व्यापार के साथ-साथ इंट्राडे ट्रेडिंग भी संभव है। ईटीएफ बेंचमार्क इंडेक्स को रेप्लिेकेट करते हैं और इसके घटक हर समय आपके लिए पारदर्शी रूप से उपलब्ध होते हैं। साथ ही पैसिव अप्रोच आपके निवेश को बेंचमार्क इंडेक्स के रिटर्न के साथ रिटर्न देने में मदद करता है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *