IPO में पारस डिफेंस ने रचा इतिहास, टोटल 304 गुना भरा इश्यू

मुंबई- 304 गुना भरने के साथ ही पारस डिफेंस के IPO ने सभी रिकॉर्ड तोड़ दिया है। रिटेल निवेशकों का हिस्सा 112 गुना भरा है। क्वालीफाइड इंस्टीट्यूशनल बॉयर्स (QIB) का हिस्सा 169 गुना भरा है। नॉन इंस्टीट्यूशनल इन्वेस्टर यानी NII का हिस्सा 927 गुना भरा है।  

भारतीय IPO के इतिहास में यह पहली बार हुआ है। कंपनी 165 से 175 रुपए के भाव पर IPO लाई थी। कंपनी का IPO काफी महंगा है। यह 42 के PE (प्राइस टू अर्निंग) पर आ रहा है। यानी एक रुपए के शेयर के लिए निवेशक 42 रुपए दे रहे हैं। पारस डिफेंस ने कुल 71.40 लाख शेयर्स IPO में जारी किया था। इसके एवज में इसे 217.02 करोड़ शेयर्स के लिए बोली मिली है। यानी 170 करोड़ रुपए के एवज में कंपनी को 38 हजार करोड़ रुपए से ज्यादा के लिए बोली मिली है।  

IPO खुलने से पहले एंकर निवेशकों में देश के फंड हाउसेस और अन्य संस्थागत निवेशकों ने जमकर बोली लगाई थी। एंकर निवेशकों के लिए कंपनी ने 175 रुपए के भाव पर 29.27 लाख शेयर्स जारी किया था। इससे पहले सबसे ज्यादा सब्सक्रिप्शन का रिकॉर्ड सालासर टेक के नाम था। 2017 में इस कंपनी का IPO 273 गुना भरा था। 200 गुना से ज्यादा रिस्पांस पाने वाली अब तक 4 कंपनियां रहीं।  

2018 में अपोलो माइक्रो को 248 गुना, 2017 में एस्ट्रॉन पेपर को 241 गुना और इसी साल एमटीएआर के IPO को 200 गुना का रिस्पांस मिला था। पिछले साल मिसेज बैक्टर के IPO को 198 गुना रिस्पांस मिला था। सबसे ज्यादा फायदा सालासर टेक ने दिया। इसका इश्यू प्राइस 108 रुपए था जो अब 277 रुपए पर है। यानी 156% का फायदा मिला है। एमटीएआर ने 146% का फायदा दिया है। इसका इश्यू प्राइस 575 रुपए था। अब यह शेयर 1,082 रुपए पर कारोबार कर रहा है।  

अपोलो माइक्रो ने निवेशकों को 57% का घाटा दिया है। इसका इश्यू प्राइस 275 रुपए था और आज यह शेयर 116 रुपए पर कारोबार कर रहा है। एस्ट्रॉन पेपर के IPO ने 14% का फायदा दिया है। कैपासिट इंफ्रा के IPO ने 33% का घाटा दिया है। IPO के इतिहास में पहले दिन सबसे ज्यादा सब्सक्रिप्शन पाने वाली कंपनी भी पारस डिफेंस ही है। पारस डिफेंस को पहले दिन 16.57 गुना का रिस्पांस मिला था। इससे पहले 2008 में रिलायंस पावर के इश्यू को 10.68 गुना का रिस्पांस मिला था। 170 करोड़ रुपए जुटाने के लिए बाजार में उतरी पारस डिफेंस का इश्यू पहले ही घंटे में 7 गुना भर गया था। हालांकि इश्यू खुलने के पहले ही 5 मिनट में पूरी तरह से भर गया था। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *