शेयर बाजार में 1 साल में निवेशकों की संख्या 45.49% बढ़ी, कुल 7.81 करोड़ निवेशक हुए

मुंबई- शेयर बाजार की तेजी का असर यह है कि देश में 1 साल में निवेशकों की संख्या में 45.49% की बढ़त आई है। 1 साल पहले यानी अगस्त 2020 में देश में कुल 5.37 करोड़ निवेशक थे। अब निवेशकों की संख्या 7.81 करोड़ हो गई है। 1 साल में 2.44 करोड़ निवेशक बढ़े हैं।  

अगस्त 2020 में सेंसेक्स 38,628 पर बंद हुआ था। अक्टूबर 2020 में सेंसेक्स 39,614 पर जबकि दिसंबर में 47,751 पर बंद हुआ था। मई 2021 में सेंसेक्स 51 हजार 937 पर बंद हुआ था। जुलाई में 52,586 पर बंद हुआ। जबकि अगस्त 2021 में सेंसेक्स 5 हजार अंक बढ़कर 57,552 पर बंद हुआ।  

महाराष्ट्र में अगस्त 2021 में निवेशकों की कुल संख्या 1.65 करोड़ हो गई है। इसमें एक साल पहले की तुलना में 48.88 लाख (41.78%) निवेशक बढ़े हैं। उत्तर प्रदेश में इसी समय में 22.84 लाख (60.45%) निवेशक बढ़े हैं। यहां अब 60.64 लाख निवेशक हो गए हैं। गुजरात में 20.65 लाख (28.48%) निवेशक बढ़े हैं। यहां 93.18 लाख निवेशक हो गए हैं। 

दिल्ली में निवेशकों की संख्या 31% बढ़ी है। बिहार की बात करें तो यहां कुल 20.11 लाख निवेशक हैं। इनकी संख्या 1 साल में 86.74% या 9.34 लाख बढ़ी है। मध्यप्रदेश में एक साल में निवेशकों की संख्या 80% बढ़ी है। यहां एक साल पहले 17.04 लाख निवेशक थे। अब इनकी संख्या 30.68 लाख हो गई है। हरियाणा में कुल 24.06 लाख निवेशक हैं। एक साल में यहां 7.99 लाख यानी 50% निवेशक बढ़े हैं। राजस्थान में कुल 40.74 लाख निवेशक हैं। एक साल में 16.51 लाख यानी 66% निवेशक बढ़े हैं। 

छत्तीसगढ़ में 6.68 लाख निवेशक हैं। 1 साल में 2.50 लाख यानी 60% निवेशक बढ़े हैं। हिमाचल प्रदेश में 77%, उत्तराखंड में 66% निवेशक बढ़े हैं। पंजाब में 1 साल में 5.47 लाख यानी 46.61% निवेशक बढ़े हैं। यहां कुल 17.22 लाख निवेशक हो गए हैं। झारखंड में 54% निवेशक बढ़े हैं। यहां कुल 11.24 लाख निवेशक हैं। हालांकि छोटे राज्यों के निवेशकों की संख्या में ज्यादा बढ़त दिखी है। जबकि बड़े राज्यों में कम निवेशक बढ़े हैं।   

दक्षिण भारत की बात करें तो यहां आंध्र प्रदेश में 40.54%, तेलंगाना में 85.77% और तमिलनाडु में 31% निवेशकों की संख्या बढ़ी है। पश्चिम बंगाल में 29%, असम में 198%, ओड़ीशा में 71%, केरल में 35% निवेशकों की संख्या बढ़ी है। मणिपुर में निवेशकों की संख्या में 131% की बढ़त आई है। यहां 71,446 निवेशक हैं। त्रिपुरा में 77.77%, मेघालय में 73%, अरुणाचल प्रदेश में 106%, नगालैड में 70% निवेशक बढ़े हैं। कुल निवेशकों की संख्या अप्रैल 2020 में 4.98 करोड़ थी जो अप्रैल 2021 में बढ़ कर 6.84 करोड़ हो गई थी। यानी 37.3% का इजाफा हुआ था।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *