सरकारी कंपनियों में भाजपा नेताओं का है बोलबाला, कई कंपनियों में स्वतंत्र निदेशक बने हैं

मुंबई– SEBI ने कंपनियों में इंडिपेंडेंट डयरेक्टर्स यानी स्वतंत्र निदेशकों की नियुक्ति से जुड़े नियमों में संशोधन किया है। 98 पब्लिक सेक्टर अंडरटेकिंग्स (PSU) यानी सरकारी कंपनियों के बोर्ड में 172 स्वतंत्र निदेशक नियुक्त हैं। इनमें कम से कम 86 सत्ताधारी भाजपा से जुड़े हैं। इनकी नियुक्ति 67 सरकारी कंपनियों के बोर्ड में की गई है।  

भारत हैवी इलेक्ट्रिकल्स लिमिटेड- मनीष कपूर: डिप्टी कोषाध्यक्ष, यूपी बीजेपी. (पीएसयू बोर्ड में 30 जून 2020 को नियुक्त)।राजेश शर्मा: पूर्व राष्ट्रीय संयोजक, बीजेपी सीए सेल, यूपी. (20 फरवरी 2019)। राजकुमार बिंदल: 1996 से बीजेपी के सदस्य. (30 जनवरी 2020)।इंडियन ऑयल कॉरपोरेशन लिमिटेड- राजेंद्र आर्लेकर: पूर्व स्पीकर, गोवा विधानसभा, पूर्व मंत्री (24 जुलाई 2019)।

स्टील अथॉरिटी ऑफ इंडिया लिमिटेड-एन शंकरअप्पा: राज्य कार्यकारी सदस्य, कर्नाटक भाजपा (13 नवंबर 2019)। हिंदुस्तान पेट्रोलियम कॉरपोरेशन लिमिटेड- जी राजेंद्रन पिल्लई: राज्य कार्यकारी सदस्य, केरल भाजपा (15 जुलाई 2019)। पावर ग्रिड कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड- ए आर महालक्ष्मी: उपाध्यक्ष, तमिलनाडु भाजपा. (26 जुलाई 2018)। 

शिपिंग कॉरपोरेशन ऑफ इंडिया लिमिटेड- विजय तुलसीरामजी जाधव: 2009 में महाराष्ट्र विधानसभा चुनावों में भाजपा प्रत्याशी (3 जुलाई 2018)। मावजीभाई बी सरोथिया: गुजरात भाजपा के सीए सेल के संयोजक (17 दिसंबर 2018)।

ऑयल इंडिया लिमिटेड- टंगोर तपक: पूर्व मंत्री, अरुणाचल, पूर्व भापजा राज्य अध्यक्ष. (9 अगस्त 2019)। गगन जैन- भाजपा सदस्य, मेघालय (9 अगस्त 2019)। राष्ट्रीय इस्पात निगम लिमिटेड- सीता सिन्हा: भाजपा राज्य एग्जीक्यूटिव सदस्य, बिहार, पूर्व जनता दल विधायक (24 जनवरी 2020)। NLC इंडिया लिमिटेड- नारायण नंबूथिरी: भाजपा प्रवक्ता, केरल (10 जुलाई 2019)।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *