विजय माल्या की कंपनियों के शेयर अगले हफ्ते बेचेगा स्टेट बैंक

मुंबई- देश के सबसे बड़े बैंक स्टेट बैंक ऑफ इंडिया (SBI) के नेतृत्व में बैंकों का एक ग्रुप कर्ज वसूली के लिए विजय माल्या की तीन कंपनियों के शेयरों की बिक्री करेगा। इससे करीब 6,200 करोड़ रुपए की रिकवरी की उम्मीद है। यह कर्ज विजय माल्या ने अपनी एयरलाइन कंपनी किंगफिशर के लिए लिया था। 

23 जून को होने वाली इस नीलामी में SBI की ओर से यूनाइटेड ब्रेवरीज लिमिटेड, यूनाइटेड स्पिरिट लिमिटेड और मैक्डोनॉल्ड होल्डिंग्स लिमिटेड के शेयर बेचे जाएंगे। अगर शेयर की बिक्री कामयाब रही तो यह बैंकों की किंगफिशर मामले में पहली बड़ी रिकवरी होगी।। 2012 में यह कर्ज से NPA बन गया था। 

शेयरों की बिक्री डेट रिकवरी ट्रिब्युनल (DRT) बेंगलुरु के तहत की जाएगी। इसके तहत रिकवरी ऑफिसर 6,203 करोड़ रुपए के साथ लागत और 25 जून 2013 से रिकवरी की तारीख तक 11.5% ब्याज भी जोड़कर वसूल करेगा। इसी महीने के शुरुआत में पीएमएलए कोर्ट ने बैंकों को माल्या की प्रॉपर्टी और अन्य बाकी चीजों को बेचने की इजाजत दे दी। बैंक ने कहा कि प्रॉपर्टी और अन्य संपत्ति को बेचकर बैंक अपना कुछ पैसा वसूल सकते हैं। 

23 जून को रिकवरी ऑफिसर यूनाइटेड ब्रेवरीज के 4.13 करोड़, यूनाइटेड स्पिरिट के 25.02 लाख और मैक्डोनॉल्ड होल्डिंग्स के 22 लाख शेयर ब्लॉक डील के तहत बेचेगा। रिपोर्ट के मुताबिक, अगर ब्लॉक डील के तहत शेयरों की बिक्री नहीं हुई तो इसे 24 जून से बल्क या रिटेल मोड के जरिए इन्हें बेचा जाएगा। विजय माल्या ने 17 बैंकों से करीब 9 हजार करोड़ रुपए और उनके ब्याज अब तक नहीं भरा है। इसमें SBI सहित पंजाब नेशनल बैंक, IDBI बैक, बैंक ऑफ बड़ौदा, इलाहाबाद बैंक, फेडरल बैंक, एक्सिस बैंक भी शामिल हैं। 

माल्या की एयरलाइन कंपनी किंगफिशर फाइनेंशियल क्राइसेस के कारण 20 अक्टूबर 2012 से उड़ान नहीं भर पाई है। विजय माल्या को जनवरी 2019 में कर्ज भुगतान न करने और कथित तौर पर बैंकों को धोखा देने के आरोप में भगोड़ा आर्थिक अपराधी घोषित किया गया है। माल्या ने 2 मार्च 2016 में भारत छोड़ दिया था। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.