डीजल की कीमत भी 100 रुपए के करीब पहुंची, राजस्थान में 99.24 रुपए लीटर हुई

मुंबई– पेट्रोल के बाद अब डीजल के दाम भी 100 रुपए प्रति लीटर के करीब पहुंच गए हैं। राजस्थान के श्रीगंगानगर में डीजल 99 रुपए 24 पैसे पर पहुंच गया है। अगर ऐसा ही रहा तो जल्द ही डीजल भी 100 रुपए पार निकल सकता है। अगर ईरान पर लगा प्रतिबंध नहीं हटता है तो आने वाले दिनों में कच्चा तेल 75 डॉलर प्रति बैरल के पार निकल सकता है, जो अभी 71 डॉलर के करीब है। 

यूरोपीय देशों में भी जीवन सामान्य हो रहा है। इससे पेट्रोलियम पदार्थों की मांग बढ़ रही है। कल कच्चे तेल की कीमतें खूब चढ़ीं और यह दो साल के उच्चतम स्तर पर आ गया। ऐसे में कच्चा तेल महंगा होने लगा है। 

भारत अपनी जरूरतों का 85% से अधिक कच्चा तेल आयात करता है। साल 2019 से पहले भारत, ईरान का दूसरा सबसे बड़ा ग्राहक था। ईरान के कच्चे तेल से कई फायदे हैं। इसमें ट्रैवेल रूट छोटा है और इससे माल ढुलाई सस्‍ती पड़ती है। इतना ही नहीं ये रुपयों में भारत को कच्चा तेल देता है जबकि बाकि देश डॉलर में कच्चे तेल का व्यापर करते हैं। ऐसे में डॉलर के महंगे होने से भारत को कच्चे तेल के लिए ज्यादा पैसे चुकाने पड़ते हैं। 

अगले हफ्ते ईरान पर लगे प्रतिबंधों को लेकर मीटिंग है। ऐसे में अगर ईरान पर लगे प्रतिबंध हटते हैं तो कच्चा तेल 60 से 65 डॉलर प्रति बैरल तक आ सकता है। अगर अमेरिका, ईरान पर लगे प्रतिबंधों में ढील देता है तो भारत उससे फिर से तेल का आयात शुरू कर सकता है। साल 2019 से ईरान से तेल आयात बंद है। 

पेट्रोल या डीजल की कीमतें मुख्य रूप से 4 कारकों पर निर्भर करती हैं। इनमें कच्चे तेल की कीमत, रुपए के मुकाबले अमेरिकी डॉलर की कीमत, टैक्स और इनकी मांग का स्तर। अनुज गुप्ता कहते हैं कि अगर ईरान से प्रतिबंध नहीं हटता है तो आने वाले दिनों में कच्चे तेल की मांग बढ़ने से ये 75 डॉलर प्रति बैरल तक जा सकता है। 

इसके अलावा अमेरिका में वैक्सीनेशन पूरा होने से यहां की अर्थव्यवस्था में स्थिरता आने लगी है इससे रुपए के मुकाबले डॉलर भी मजबूत होने लगा है। आने वाले 1-2 महीने में डॉलर 75 रुपए तक पहुंच सकता है जो अभी 73 रुपए के करीब है। इससे आने वाले दिनों में पेट्रोल-डीजल और महंगे हो सकते हैं। 

अगर कच्चा तेल 75 डॉलर और डॉलर 75 रुपए तक पहुंचता है तो आने वाले दिनों में पेट्रोल-डीजल 2 से 3 रुपए तक जा सकते हैं। ऐसे में ईरान पर लगे प्रतिबंध के हटने से ही आम आदमी को राहत मिलने की उम्मीद है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *