अब घंटे के आधार पर पैसा देगी स्पाइसजेट, वेतन तय करते समय लिया जाएगा फैसला

मुंबई– कोरोना महामारी की दूसरी लहर से देश की एविएशन इंडस्ट्री बुरी तरह प्रभावित हुई है। एयर ट्रैफिक में भारी गिरावट को एयरलाइन कंपनी स्पाइसजेट ने बड़ा फैसला लिया है। इसके तहत कर्मचारियों को काम के घंटों के आधार पर दिया जाएगा। हालांकि, कंपनी वेतन तय करते समय मूल सीमा को बनाए रखेगी। 

कंपनी के ह्युमन रिसोर्सेस (HR) की ओर से आए ईमेल के मुताबिक पिछले साल की तरह इस बार भी कोरोना से एविएशन इंडस्ट्री बुरी तरह प्रभावित हुई है। दूसरी लहर के दौरान पैसेंजर ट्रैफिक में भारी गिरावट आई। यह प्री-कोविड लेवल के मुकाबले गिरकर 10% से भी कम हो गया। 

मौजूदा हालात को देखते हुए स्पाइसजेट ने कहा कि कंपनी अपने सैलरी स्ट्रक्चर में बदलाव करते हुए कर्मचारियों को काम के घंटे के आधार पर पेमेंट करेगी। इस दौरान मूल सीमा का भी ध्यान रखा जाएगा। एयरलाइन कंपनी ने आगे कहा कि मई के लिए कर्मचारियों की सैलरी 1 जून को उनके बैंक अकाउंट में ट्रांसफर किया जाएगा। कुछ के लिए सैलरी का 35% हिस्सा रोका जाएगा। 

कंपनी ने बताया कि रोके गए सैलरी का भुगतान जून के दूसरे हफ्ते में किया जाएगा। इस दौरान जिनकी सैलरी का अमाउंट कम है उनको पूरा पेमेंट किया जाएगा। फिलहाल एयर ट्रैफिक में बढ़ोतरी की संभावना कम ही है, क्योंकि DGCA ने कोरोना संक्रमण के हालात को देखते हुए इंटरनेशनल पैसेंजर फ्लाइट्स की उड़ान पर 30 जून तक रोक लगा दिया है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *