फोकस्ड इक्विटी फंड में ICICI प्रूडेंशियल टॉप पर, 1 साल में 50% का रिटर्न दिया

मुंबई– एक ओर जहां इक्विटी म्यूचुअल फंड से निवेशक पैसा निकाल रहे हैं, वहीं दूसरी ओर फोकस्ड इक्विटी फंड में बेहतरीन फायदा निवेशकों को मिल रहा है। ICICI प्रूडेंशियल फोकस्ड इक्विटी फंड ने 1 साल में निवेशकों को 50% का फायदा दिया है।   

विश्लेषकों के मुताबिक, फोकस्ड फंड निवेशकों की पसंदीदा स्कीम हैं। सेबी की स्कीम कैटेग्राइजेशन की अनिवार्यता के बाद, इस तरह के पोर्टफोलियो में अधिकतम 30 शेयर ही शामिल हो सकते हैं। आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल की इस स्कीम ने कैटेगरी की तुलना में भी बेहतरीन रिटर्न दिया है। फोकस्ड फंड का उद्देश्य सीमित शेयरों में निवेश कर ज्यादा रिटर्न देने का होता है। क्योंकि ऐसे शेयरों में बढ़त की ज्यादा उम्मीद होती है। कोरोना के दौरान फंड मैनेजर्स ने फोकस्ड थीम के पोर्टफोलियो पर फोकस किया। यह स्कीम उन कंपनियों में निवेश करती है जिनकी बैलेंसशीट मजबूत होती है और अर्निंग में संभावना दिखती है।  

इस स्कीम की एक और खासियत होती है, वह यह कि यह स्कीम गांवों की अर्थव्यवस्था वाली कंपनियों के शेयरों में भी निवेश करती है। ऐसा इसलिए क्योंकि इन कंपनियों में रिकवरी और अच्छा प्रदर्शन होता है। पिछले साल मार्च से बाजार की रिकवरी में इनका योगदान अच्छा रहा है। आईसीआईसीआई प्रूडेंशियल फोकस्ड ने 3 साल में 13 पर्सेंट और 5 साल में 15 पर्सेंट सीएजीआर की दर से रिटर्न दिया है। यह इसलिए संभव हुआ क्योंकि फंड हाउस ने उन कंपनियों के शेयरों पर फोकस किया जो संभावित रूप से आगे अच्छा प्रदर्शन करने वाली हैं।  

इस समय बाजार ऊंचाई पर है इसलिए फंड मैनेजर अगले विजेता वाले शेयरों की तलाश में हैं। यह स्कीम उन सेक्टर्स में फोकस कर रही है, जिसमें अर्थव्यवस्था की रिकवरी के समय में आगे बढ़ने की उम्मीद है। इसके पोर्टफोलियो में वे नाम हैं जो क्रेडिट ग्रोथ और पैसे के निवेश से फायदा पाने वाले हैं। इस पोर्टफोलियो का एक्सपोजर उन सेक्टर्स में भी हैं जो बड़ी वित्तीय कंपनियां हैं। साथ ही सकारी कंपनियां भी इसमें हैं। इसके अलावा कंज्यूमर नॉन ड्यूरेबल और अन्य भी हैं।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.