FII को पसंद आया बजट

फरवरी में अब तक इक्विटी बाजार में 19 हजार करोड़ का निवेश, जनवरी में 19473 करोड़ था निवेश 

मुंबई– देश का बजट विदेशी निवेशकों को भी पसंद आ रहा है। जनवरी में शेयर बाजार में निवेश में सावधानी बरतने वाले ये निवेशक इस महीने जम कर निवेश कर रहे हैं। फरवरी में अब तक इक्विटी बाजार में विदेशी निवेशकों (FII) ने 18,883 करोड़ रुपए का निवेश किया है। जबकि जनवरी के पूरे महीने में केवल 19 हजार 473 करोड़ रुपए का निवेश किया था।  

बता दें कि बजट के दिन बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) में ढाई हजार से ज्यादा अंकों की तेजी आई थी। उसके अगले दिन भी इसमें एक हजार से ज्यादा अंकों की तेजी आई थी। सोमवार को एक बार फिर बीएसई ने रिकॉर्ड बनाया और यह पहली बार 52 हजार के पार बंद होने में सफल रहा। हालांकि सोमवार को विदेशी निवेशकों ने 1710 करोड़ रुपए के शेयर बेच दिए।  

इससे पहले नवंबर में इन निवेशकों ने 60 हजार करोड़ रुपए और दिसंबर में 62 हजार करोड़ रुपए का शेयर खरीदा था। लेकिन बजट में बहुत ज्यादा कुछ न मिलने की उम्मीद में जनवरी में इन निवेशकों ने निवेश घटा दिया। पर फरवरी में ऐसी उम्मीद है कि ये 40 हजार करोड़ रुपए तक का शुद्ध निवेश कर सकते हैं।  

विश्लेषकों के मुताबिक, तीसरी तिमाही में भारतीय कंपनियों के रिजल्ट उम्मीद से बेहतर रहे हैं। अक्टूबर-दिसंबर (तीसरी तिमाही) के अब तक आए रिजल्ट में 3,087 कंपनियों के फायदे में 68.7 पर्सेंट की बढ़त दिखी है। चालू वित्त वर्ष के 9 महीनों में यह सबसे बेहतर रिजल्ट रहा है। विश्लेषकों का मानना है कि चौथी तिमाही का रिजल्ट इससे भी बेहतर रहेगा। क्योंकि अक्टूबर-दिसंबर की तिमाही की तुलना में चौथी तिमाही में और ज्यादा अर्थव्यवस्था खुल चुकी है। साथ ही अब बजट जैसा बड़ा इवेंट भी बीत चुका है।  

विदेशी निवेशकों के जो पसंदीदा सेक्टर हैं, उसमें टोटल फाइनेंशियल सेक्टर में इन्होंने 1,247 करोड़ रुपए का निवेश किया है। अन्य फाइनेंशियल सेक्टर में 1,771 करोड़ रुपए, टेलीकॉम में 1,804 करोड़ रुपए, मेटल एवं माइनिंग में 1,986 करोड़, कैपिटल गुड्स में 2,714 करोड़ रुपए और ऑटो मोबाइल और इसके कलपुर्जे में 2,798 करोड़ रुपए का निवेश किया है।  

इससे पहले दिसंबर में इन निवेशकों का पसंदीदा सेक्टर फार्मा था। फार्मा ने अच्छा प्रदर्शन किया है। बैंकिंग सेक्टर के शेयरों का हालांकि अच्छा प्रदर्शन नहीं रहा था। अब बैंकिंग सेक्टर में भी यह निवेशक दांव लगा रहे हैं। आईटी सेक्टर में ये लगातार निवेश कर रहे हैं। इसी तरह एफएमसीजी और कंज्यूमर में भी ये निवेशक लगातार शेयर खरीद रहे हैं। विश्लेषकों का कहना है कि चूंकि भारत की आर्थिक गाथा आगे अच्छी दिख रही है, इसलिए विदेशी निवेशकों का यह निवेश का रुझान आगे भी पॉजिटिव रह सकता है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.