कोविड-19 में रियल एस्टेट खरीदने में सोशल मीडिया के ग्राहकों को मदद

मुंबई-वर्ष 2020 वास्तविक रोलर कोस्टर है. महामारी के अचानक प्रादुर्भाव से बहुत से कारोबारों पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा. कोविड-19 स्थिति का रीयल्टी सेक्टर पर प्रतिकूल प्रभाव पड़ा। बाजार के अन्य क्षेत्रों एवं उद्योगों के लिए चुनौतीपूर्ण बनने से कोविड-19 स्थिति ने रियल एस्टेट में शून्य के निकट साइट विजिट के साथ ट्रांजैक्शन को कम कर दिया। 

लॉकडाउन की अवधि ने हर बिजनेस के लिए आकस्मिक प्लान के साथ कार्य करना जरूरी बना दिया. अन्य उद्योग में भी रियलटर नए विकल्पों की भी छानबीन कर रहे हैं। बढ़ती बाजार मांग और बदलते लैंडस्केप के साथ रियल एस्टेट प्रोफेशनल अब वैकल्पिक विकल्पों के लिए प्रयास कर रहे हैं और ऑनलाइन मीडियम निश्चित रूप से उसमें से एक है। क्योंकि ग्राहक ऑनलाइन पर ज्यादा समय खर्च कर रहे हैं, इससे सोशल मीडिया निश्चित रूप से उचित प्लेटफार्म है। 

रियल्टर अब अपनी साइट एवं प्रोजेक्ट का स्पष्ट पूर्वानुमान प्रदान करते हैं, जो ज्यादा अपील करता है. वे अब सोशल मीडिया के मार्फत एक बार में हजारों ग्राहकों तक पहुंचने के लिए आकर्षक विज्ञापन का सहारा ले सकते हैं। दूसरी ओर ग्राहक भी एक बार में अधिक जानकारी प्राप्त कर सकते हैं। 

परंपरागत बनाम ऑनलाइन रियल एस्टेट डील:एक हाउस में निवेश करने वाला कोई भी व्यक्ति अपने जीवन भर की कमाई उसमें लगा देता है. वह वेल थाट आउट प्लान में निवेश करना पसंद करता है। पूर्व के दिनों में ग्राहक एक व्यक्ति में प्रॉपर्टी की तलाश करता था, साइट का विजिट करता था, आसपास के स्थलों की छानबीन करता था और उसके बाद हाउस में निवेश करता था, जो समय लेने वाला कार्य था और जरूरी था। 

इस तरह क्या बदल गया है ? 

ठीक है, प्रोसेस अभी भी समान है। एकमात्र बदलाव है कि अब आप यह सभी डिटेल ऑनलाइन प्राप्त कर सकते हैं। ग्राहक कंप्लीट साइट प्लान, साइट डिटेल और प्रॉपर्टी डिजाइन ऑनलाइन चेक कर सकते हैं. वस्तुतः वर्तमान डिजिटल मीडियम में ग्राहक अपने घर से साइट का 360 टूर कर सकते है. सोशल मीडिया ने लोकेशन और उसकी अतिरिक्त विशेषताओं को समझदारीपूर्वक समझने में अच्छा बनाया है। 

अत्याधुनिक तकनीक ने रियल एस्टेट संगठनों को व्यापक ढंग से अपने प्रोजेक्ट को दर्शाने में समर्थ बनाया है. यह ग्राहक को हर विवरण को सरलता और सुविधाजनक से चेक करने की सुविधा प्रदान करता है, जो वे अपनी विजिट के दौरान मिस कर सकते हैं। 

समय की बचत :यदि आप फिजिकली जाकर साइट चेक करना चाहते हैं तो आप डिटेल मिस कर सकते है. ऐसे मामले में ऑनलाइन टूर समय की भारी बचत कर सकता है. आप ना सिर्फ ऐसे विवरण पर फोकस कर सकते हैं जिसे आप जानना चाहते हैं, बल्कि अतिरिक्त सूचना भी प्राप्त कर सकते हैं,  आप के निर्णय लेने की प्रक्रिया में वृद्धि कर सकता है. 

ज्यादा इंगेजमेंट:जब आप किसी विशेष स्थल मैं प्रॉपर्टी खरीदने की योजना बनाते हैं, सोशल मीडिया आपकी मदद कर सकता है और अन्य परिवार के सदस्यों और मित्रों को जानकारी दे सकता है। आपको शेयर करने के लिए पिक्चर और वीडियो को क्लिक करने की जरूरत नहीं होती. आप निर्णय लेने से पहले जिसे चाहते हैं उसे सिंगल क्लिक पर सहजता से साइट का विवरण शेयर कर सकते हैं। 

कनेक्ट करना सरल:यदि आप विज्ञापन देखने के बाद आप किसी से कुछ कहना चाहते हैं तो सोशल मीडिया के मार्फत आप सहजता से ऐसा कर सकते। आप परामर्शदाता रखने के बजाय रिलेशनशिप मैनेजर से सीधे बात कर सकते हैं और वह आपसे उचित उत्तर के साथ आपकी वास्तविक पूछताछ पर सलाह देगा।

अधिक विकल्प:आफ लाइन सूचना सीमित रह सकती है, जबकि ऑनलाइन वर्ल्ड में आपके पास अधिक विकल्प होते हैं. सोशल मीडिया आपको आपके निवेश करने से पहले विभिन्न विकल्प देखने का आमदार अवसर प्रदान करता है। 

इस प्रकार सोशल मीडिया का दायित्व और प्रभाव व्यापक होता है. घर खरीदने के लिए सोशल मीडिया का उपयोग ऐसी प्रतिकूल परिस्थिति में करना सचमुच सुरक्षित, विश्वसनीय और सुविधाजनक विकल्प है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *