22 सितंबर से खुलेगा एंजल ब्रोकिंग का आईपीओ, 305 से 306 रुपए के मूल्य पर मिलेगा शेयर, 600 करोड़ रुपए जुटाने की योजना

मुंबई- ब्रोकरेज हाउस एंजल ब्रोकिंग का आईपीओ 22 सितंबर को खुलेगा। कंपनी इस आईपीओ से 600 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखी है। इसका मूल्य दायरा 305 से 306 रुपए तय किया गया है। यह इश्यू 24 सितंबर को बंद होगा। रिटेल निवेशकों के लिए इसमें 35 प्रतिशत हिस्सा रिजर्व है। इस साल का यह 8 वां आईपीओ है।    

कंपनी ने बताया कि 600 करोड़ रुपए में से 300 करोड़ रुपए नए इश्यू के जरिए जुटाया जाएगा। जबकि बाकी के 300 करोड़ रुपए ऑफर फॉर सेल के होंगे। यानी जिन लोगों की एंजल ब्रोकिंग में हिस्सेदारी होगी वे और प्रमोटर्स अपने शेयर बेचेंगे। इसके जरिए 300 करोड़ जुटाया जाएगा। आईपीओ के लीड मैनेजर आईसीआईसीआई सिक्योरिटीज, एडलवाइस फाइनेंशियल सर्विसेस और एसबीआई कैपिटल मार्केट्स हैं। आईपीओ में निवेशक 49 शेयरों के लॉट साइज के लिए आवेदन कर सकते हैं। यानी आपको कम से कम 14,945 रुपए मूल्य के शेयरों के लिए अप्लाई करना होगा। एंजल ब्रोकिंग देश की चौथी सबसे बड़ी ब्रोकिंग फर्म है। इसके पास 7.7 लाख एक्टिव ग्राहक हैं। 30 जून 2020 तक कंपनी की नेटवर्थ 639 करोड़ रुपए रही है। वित्त वर्ष 2018 में यह आंकड़ा 473 करोड़ रुपए था। 

कंपनी में इंटरनेशनल फाइनेंस कॉर्पोरेशन अपने शेयर बेचेगी। इससे उसे 120 करोड़ रुपए मिलने की उम्मीद है। इसने दस साल पहले 18 प्रतिशत हिस्सेदारी ली थी। एंजल ब्रोकिंग इस पैसे का उपयोग जनरल कॉर्पोरेट उद्देश्य और पूंजी की जरूरतों के लिए करेगी। पिछले साल में इसका रेवेन्यू 754 करोड़ रुपए रहा है। इसमें से 503 करोड़ रुपए ब्रोकिंग बिजनेस से रहा है। चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में इसका रोजाना का टर्नओवर 61 हजार 900 करोड़ रुपए रहा है।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *