ग्रे मार्केट में भी धमाल मचा रहे हैं आईपीओ, कैम्स पर 350 रुपए का और हैप्पिएस्ट पर 140 रुपए का प्रीमियम

मुंबई- आईपीओ बाजार सितंबर में धूम मचा रहा है। ग्रे मार्केट में भी आईपीओ के लिए अच्छी खासी डील हो रही है। कैम्स का आईपीओ अभी आया नहीं, लेकिन ग्रे मार्केट में इस पर अभी से 325 से 350 रुपए का प्रीमियम चल रहा है। जबकि गुरुवार को स्टॉक एक्सचेंज पर लिस्ट होनेवाले हैप्पिएस्ट माइंड के लिए 130 से 140 रुपए तक का प्रीमियम चल रहा है।  

ग्रे मार्केट दरअसल उसे कहते हैं जहां आपके शेयर पर कुछ ज्यादा पैसा देकर उसे दूसरा कोई खरीद लेता है। यह इस उम्मीद पर होता है कि शेयरों की लिस्टिंग आईपीओ के मूल्य से ज्यादा पर होगी। कैम्स का आईपीओ 21 सितंबर को खुलेगा और इसकी कीमत आज तय होगी। माना जा रहा है कि यह 1150 से 1200 रुपए के बीच हो सकता है। इसी आधार पर ग्रे मार्केट में यह शेयर 1500 रुपए के करीब बिक रहा है। यानी 300-350 रुपए के प्रीमियम पर यह शेयर इस समय चल रहा है। 

कैम्स 2200 से 2400 करोड़ रुपए जुटाने का लक्ष्य रखी है। हालांकि यह पूरी तरह से ऑफर फार सेल है। यानी इसके जो हिस्सेदार हैं वह अपने शेयर बेचेंगे। एनएसई अपनी पूरी हिस्सेदारी बेचेगी। ग्रे मार्केट में यह 350 रुपए के आधार पर करीबन 25 प्रतिशत प्रीमियम पर कारोबार कर रहा है।  

बता दें कि सेबी ने फरवरी में एनएसई को आदेश दिया था कि वह एक साल के भीतर अपनी हिस्सेदारी कम करे। इसी वजह से एनएसई इसमें अपनी हिस्सेदारी बेच रही है। इसके साथ कई और हिस्सेदार भी अपनी हिस्सेदारी बेच रहे हैं।  

उधर दूसरी ओर हैप्पिएस्ट माइंड की लिस्टिंग गुरुवार को है। 151 गुना का बंपर सब्सक्रिप्शन मिलने के बाद इसकी लिस्टिंग पर सबकी निगाहें हैं। 165-166 रुपए के मूल्य पर इसका आईपीओ आया था। इसे ग्रे मार्केट में 135-140 रुपए का भाव मिल रहा है। यानी यह शेयर 300 रुपए के ऊपर लिस्ट हो सकता है।  

वैसे पिछले कुछ सालों में देखें तो 20 से ज्यादा आईपीओ को 100 गुना से ज्यादा सब्सक्रिप्शन मिला है। इन सभी का ग्रे मार्केट में अच्छा भाव रहा है। साल 2017 में सालासर टेक्नो का शेयर 273 गुना सब्सक्राइब हुआ था। इसकी लिस्टिंग में 140 गुना की बढ़त हुई थी जो 259 रुपए के ऊपर खुला था। इसका आईपीओ 108 रुपए में आया था।  

हाल के समय में आईआरसीटीसी के आईपीओ की दोगुना के भाव पर लिस्टिंग हुई थी। यह इश्यू 112 गुना भरा था। इसी तरह डीमार्ट की पैरेंट कंपनी अवेन्यू सुपर मार्ट ने भी 102 प्रतिशत का रिटर्न लिस्टिंग के दिन दिया था। उज्जीवन स्माल फाइनेंस बैंक का शेयर 2019 में 57 प्रतिशत बढ़कर लिस्ट हुआ था। रेलिगेयर इंटरप्राइजेज का शेयर 2007 में 75 प्रतिशत बढ़कर लिस्ट हुआ था। इनका आईपीओ 130 गुना से ज्यादा भरा था।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *