अब आपको पेंशन योजना पर मिलेगा गारंटीड रिटर्न, पीएफआरडीए बना रहा है योजना

मुंबई– जल्द ही आपको पेंशन फंड पर गारंटीड रिटर्न मिलेगा। दरअसल पेंशन फंड का रेगुलेटर पेंशन फंड एंड नियामक और विकास प्राधिकरण (पीएफआरडीए) इस तरह के प्रोडक्ट ला रहा है। यह कम से कम गारंटीड रिटर्न वाला पेंशन प्लान होगा। 

पीएफआरडीए के चेयरमैन सुप्रतिम बंदोपाध्याय ने इस तरह की जानकारी दी है। बंदोपाध्याय ने कहा कि पेंशन अथॉरिटी इस संबंध में पेंशन फंड और एक्चुरियल फर्म के साथ बात कर रहा है। बंदोपाध्याय ने कहा कि यह ऐसी पेंशन स्कीम होगी, जिस पर कम ही सही, पर गारंटीड रिटर्न मिलेगा। 

दरअसल जिस तरह से बैंकों की एफडी या फिक्स्ड रिटर्न वाले अन्य साधन हैं, उसी तरह से पीएफआरडीए भी पेंशन में ऐसे प्रोडक्ट लाने की योजना बना रहा है। बैंकों के पास इस समय 100 लाख करोड़ रुपए से ज्यादा की जमा है। यह इसलिए क्योंकि यहां एक तय ब्याज मिलती है और कोई जोखिम नहीं होता है। उन्होंने कहा कि पेंशन फंड एक्ट के तहत हमें एक न्यूनतम फिक्स्ड रिटर्न की योजना शुरू करने की अनुमति है। पेंशन फंड (पीएफ) योजनाओं के तहत मैनेज किए जाने वाले फंड मार्क टू मार्केट हैं। इसलिए जाहिर तौर पर इनमें कुछ उतार-चढ़ाव होते हैं और वैल्युएशन बाजार के उतार चढ़ाव पर आधारित होते हैं। 

उनके मुताबिक ऐसे में कुछ लोग हो सकते हैं, जो न्यूनतम फिक्स्ड रिटर्न चाहेंगे। इसलिए हम अपने पेंशन फंड प्रबंधकों और कुछ एक्चुरियल फर्मों के साथ काम कर रहे हैं कि न्यूनतम गारंटी का आदर्श स्तर क्या हो, जो दिया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इसके बावजूद गारंटी बाजार से जुड़ी होगी, क्योंकि फंड मैनेजर्स को ही निवेश पर रिटर्न के गारंटीकृत हिस्से को तय करना होगा। 

हालांकि, पीएफआरडीए ने राष्ट्रीय पेंशन प्रणाली (एनपीएस) योजना में कई सुविधाएं जोड़ीं हैं, क्योंकि मूल उत्पाद की परिकल्पना सरकार द्वारा की गई थी और प्राधिकरण ने उत्पाद बनाने में मदद की थी। उन्होंने कहा कि अटल पेंशन योजना (एपीवाई) के मामले में भी ऐसा ही है। वैसे भारत में जो निवेशक जोखिम नहीं लेना चाहते हैं वे ज्यादातर इसी तरह के प्रोडक्ट में निवेश करते हैं। क्योंकि इसमें भले ही ब्याज या रिटर्न कम मिले, पर पैसा सुरक्षित रहता है। इसलिए इस तरह के प्रोडक्ट की ज्यादा मांग रहती है। 

बंदोपाध्याय ने कहा कि हम कोशिश कर रहे हैं कि इसी वित्त वर्ष में यह प्रोडक्ट आ जाए। यह ऐसा प्रोडक्ट है जिसे हम खुद तैयार कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि नेशनल पेंशन सिस्टम यानी एनपीएस और अटल पेंशन योजना यानी एपीवाई ऐसे प्रोडक्ट हैं, जो वित्त मंत्रालय की सलाह से बनाए गए हैं।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *