मोबाइल फोन कंपनियों के ग्राहकों की संख्या में भारी गिरावट, मई में 57 लाख से ज्यादा कम हुए ग्राहक, वोडाफोन आइडिया और एयरटेल को झटका

मुंबई-टेलीकॉम कंपनियों के ग्राहकों की संख्या में भारी गिरावट आई है। देश भर में अप्रैल में कुल मोबाइल फोन ग्राहकों की संख्या 116.94 करोड़ थी। मई में 57.6 लाख कम होकर 116.36 करोड़ हो गई। हालांकि इससे पहले अप्रैल महीने में भी ग्राहकों की संख्या में 85.3 लाख की कमी आई थी। इसमें सबसे ज्यादा नुकसान वोडाफोन आइडिया और एयरटेल को हुआ है। हालांकि जियो के ग्राहकों की संख्या बढ़ी है।  

टेलीकॉम रेगुलेटर ट्राई ने बुधवार को यह आंकड़ा जारी किया। ट्राई के मुताबिक सब्सक्राइबर की संख्या में कुल कमी के बीच, रिलायंस जियो सब्सक्रिप्शन में सबसे आगे रहा है, जिसने महीने के दौरान 36.57 लाख सब्सक्राइबर जोड़े। इससे उसके कुल यूजर्स की संख्या 39.27 करोड़ हो गई। इसी दौरान भारती एयरटेल और वोडाफोन आइडिया के ग्राहकों की संख्या में 47-47 लाख ग्राहकों की कमी आई है। एयरटेल के कुल ग्राहकों की संख्या 31.7 करोड़ रही है जबकि वोडाफोन आइडिया के ग्राहकों की संख्या 30.9 करोड़ रही है।  

सरकारी कंपनी बीएसएनल ने इस दौरान 2.01 लाख नए कनेक्शन स्थापित किए, जिससे इसके सब्सक्राइबर्स की संख्या बढ़कर 11.99 करोड़ हो गई। डाटा के अनुसार, मई में 29.8 लाख सब्सक्राइबर ने मोबाइल नंबर पोर्टबिलिटी (एमएनपी) के लिए आवेदन किया। शहरी केंद्रों में ग्राहकों की संख्या ज्यादा कम हुई है। इनमें 93.2 लाख मोबाइल फोन ग्राहक घटे हैं। ग्रामीण इलाकों में ग्राहकों की संख्या में 36.2 लाख की वृद्धि हुई है। आंकड़ों के मुताबिक, देश में लैंडलाइन ग्राहकों की संख्या 1.5 लाख से घटकर 1.97 लाख रह गई है। बीएसएनएल की संख्या में भारी गिरावट आई है क्योंकि लैंडलाइन फोन में यही एकमात्र कंपनी है जिसकी पहुंच ज्यादा है। रिलायंस जियो ने मई में कुछ ग्राहक बनाए हैं। बीएसएनएल ने 1.34 लाख वायरलाइन ग्राहकों को गंवाया है। जबकि रिलायंस जियो के ग्राहकों की संख्या में 90 हजार की वृद्धि हुई है। 

हालांकि सभी तरह के ग्राहकों में गिरावट के बाद ब्रॉडबैंड ग्राहकों की संख्या में बढ़त देखी गई है। इसमें 1.13 प्रतिशत की बढ़त रही है और यह मई में 68.3 करोड़ हो गई है। अप्रैल में यह 67.6 करोड़ थी। इसमें वायरलेस ब्रॉडबैंड कनेक्शन की संख्या 66.37 करोड़ थी। वायर्ड कनेक्शन की संख्या 1.93 करोड़ थी। कुल 344 ब्रॉडबैंड सर्विस कंपनियों में से 98.93 प्रतिशत बाजार हिस्सेदारी महज टॉप पांच कंपनियों के पास है। इसमें रिलायंस जियो के पास 39.37 करोड़ कनेक्शन हैं। भारती एयरटेल के पास 14.59 करोड़ जबकि वोडाफोन के पास 11.3 करोड़ हैं।  

Leave a Reply

Your email address will not be published.