बीमा कंपनी में हिस्सेदारी बेचने से एसबीआई का लाभ 81 प्रतिशत बढ़ा, 4,189.34 करोड़ रुपए का हुआ शुद्ध मुनाफा

(अर्थलाभ संवाददाता) 

मुंबई– देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक (एसबीआई) को चालू वित्त वर्ष की पहली तिमाही में 4,189.34 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ हुआ है। एक साल पहले समान तिमाही में हुए 2,312 करोड़ रुपए की तुलना में यह 81 प्रतिशत ज्यादा है। बैंक ने शुक्रवार को फाइनेंशियल रिजल्ट घोषित किया। बैंक का शेयर बीएसई पर दोपहर में तीन प्रतिशत बढ़त के साथ 192 रुपए पर कारोबार कर रहा था। 

बैंक ने बताया कि उसके शुद्ध लाभ में बढ़त की वजह एसबीआई लाइफ में हिस्सेदारी बेचने से रही है। यह हिस्सेदारी बैंक ने 1,539.73 करोड़ रुपए में जून तिमाही में बेची है। वर्तमान में एसबीआई लाइफ में बैंक की होल्डिंग 55.5 प्रतिशत है। हिस्सेदारी बिकने से पहले यह 57.60 प्रतिशत थी। 

जून तिमाही में बैंक की शुद्ध ब्याज आय 26,641 करोड़ रुपए रही है। एक साल पहले की समान तिमाही की तुलना में यह 16 प्रतिशत ज्यादा है। अन्य आय हालांकि 8,015 करोड़ रुपए से घटकर 7,957 करोड़ रुपए रही है। बैंक ने तिमाही के दौरान 12,501 करोड़ रुपए का प्रोविजन किया है। यह प्रोविजन मार्च तिमाही में किए गए 13,945 करोड़ रुपए से कम है। लेकिन एक साल पहले जून तिमाही में 9,183 करोड़ रुपए की तुलना में यह बहुत ज्यादा है। 

बैंक के बुरे फंसे कर्जों यानी ग्रॉस एनपीए में करीबन 31 बीपीएस की कमी आई है। यह 5.44 प्रतिशत रहा है। एक साल पहले यह 6.15 प्रतिशत था। शुद्ध एनपीए 1.86 प्रतिशत रहा है जबकि एक साल पहले समान तिमाही में यह 2.23 प्रतिशत रहा है। 

Leave a Reply

Your email address will not be published.