यस बैंक ने एफपीओ से पहले एंकर निवेशकों से जुटाया 4,098 करोड़ रुपए, आज खुलेगा 15,000 करोड़ रुपए का एफपीओ

मुंबई- निजी क्षेत्र के छठें बड़े बैंक यस बैंक ने एंकर निवेशकों से 4,098 करोड़ रुपए जुटाया है। कुल 12 निवेशकों ने मंगलवार को यह निवेश किया। बैंक का एफपीओ बुधवार से खुलेगा। इसके जरिए बैंक 15 हजार करोड़ रुपए जुटाएगा। बैंक का शेयर सोमवार और मंगलवार के दो दिनों में करीबन 20 प्रतिशत टूटा है।

बैंक ने मंगलवार को कहा कि एंकर निवेशकों ने कुल 341 करोड़ शेयरों के लिए 12-13 रुपए के मूल्य पर आवेदन किया। इन एंकर निवेशकों में बे ट्री इंडिया होल्डिंग सबसे बड़ा निवेशक था जिसमें 2,250 करोड़ रुपए यस बैंक में 187 करोड़ इक्विटी शेयरों के लिए किया। यस बैंक का एफपीओ करीबन 45-50 प्रतिशत के डिस्काउंट पर आ रहा है। इसका शेयर बीएसई पर 20-21 रुपए के बीच कारोबार कर रहा है।

एफपीओ से जुटाई गई राशि का उपयोग बैंक अपने सीएआर को बनाए रखने के लिए करेगा। आरबीआई के नियमों के मुताबिक बैंक का सीएआर इस समय कम है। एंकर निवेशकों में एचडीएफसी लाइफ इंश्योरेंस, एलारा इंडिया ने 400 करोड़ और 372 करोड़ रुपए का निवेश किया।

इनके अलावा अन्य एंकर निवेशकों में जुपिटर इंडिया, जुपिटर साउथ एशिया इन्वेस्टमेंट कंपनी, बजाज आलियांज लाइफ इंश्योरेंस कंपनी, आईसीआईसीआई लोंबार्ड जनरल इंश्योरेंस कंपनी, रिलायंस जनरल इंश्योरेंस कंपनी, आरबीएल बैंक, एडलवाइस, हिंदूजा लेलैंड फाइनेंस और ईसीएल फाइनेंस ने 700 करोड़ रुपए के शेयरों की खरीदी की है। एफपीओ 17 जुलाई को बंद होगा और इसमें कम से कम 1000 शेयरों के लिए आवेदन किया जा सकता है।

बता दें कि यस बैंक में संकट के बाद इसे एसबीआई, एचडीएफसी, आईसीआईसीआई बैंक, एक्सिस बैंक, कोटक महिंद्रा बैंक, फेडरल बैंक, बंधन बैंक और आईडीएफसी बैंक आदि ने मिलकर 10 हजार करोड़ रुपए की पूंजी डालकर बेलआउट किया। एफपीओ में 200 करोड़ रुपए का हिस्सा कर्मचारियों के लिए आरक्षित है। 31 मार्च तक बैंक का सीईटी रेशियो 6.3 प्रतिशत था जो कि आरबीआई के 7.3 प्रतिशत से कम था।  

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *